‘जालंधर में जीत ऐतिहासिक, 2024 में जीतेंगे पंजाब की सभी सीटें’, केजरीवाल की हुंकार

नई दिल्ली,

आम आदमी पार्टी ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में चार सीटें जीतकर संसदीय सफर की शानदार शुरुआत की थी. आम आदमी पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में महज एक सीट पर सिमट गई और भगवंत मान के मुख्यमंत्री बनने के बाद हुए उपचुनाव में वह सीट भी फिसल गई. लोकसभा में आम आदमी पार्टी शून्य पर पहुंच गई थी. अब जालंधर उपचुनाव ने पार्टी में नई जान फूंक दी है.

जालंधर उपचुनाव के वोट गिने जा रहे थे, आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार सुशील कुमार रिंकू लगातार मजबूत बढ़त बनाए हुए थे और इधर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान दिल्ली पहुंच गए थे. भगवंत मान ने दिल्ली पहुंचकर अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की. केजरीवाल ने दिल्ली के सीएम हाउस पहुंचे मान को गले लगाकर जालंधर में जीत की बधाई दी और इसके बाद दोनों नेता पार्टी मुख्यालय पहुंचे.

अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के मुख्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए लोकसभा चुनाव 2014 और 2019 में पार्टी के प्रदर्शन की चर्चा की और लोकसभा में शून्य पर पहुंचने का भी जिक्र किया. केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने जालंधर में ऐतिहासिक जीत हासिल की है. उन्होंने कहा कि ये सीट कांग्रेस का गढ़ रही है और यहां 50 साल से कांग्रेस जीत रही थी.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को लगता था कि ये उनकी सीट है तो लोग उन्हें ही वोट देंगे. कांग्रेस का कोई बड़ा नेता वहां वोट मांगने ही नहीं आया. केजरीवाल ने कहा कि अब ऐसा नहीं है. हम 2024 में भी 13 की 13 लोकसभा सीटें जीतेंगे. उन्होंने कहा कि पहले साल गवर्नेंस किसी भी सरकार के लिए बहुत कठिन होता है.

हम करते हैं काम की राजनीति
केजरीवाल ने कहा कि हमें पिछली सरकार से कई बड़ी खामियां विरासत में मिली थीं. उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री की तारीफ करते हुए कहा कि भगवंत मान ने कमाल का काम किया है. केजरीवाल ने कहा कि हम काम की राजनीति करते हैं. उन्होंने ये भी कहा कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में जब आम आदमी पार्टी की लहर चल रही थी, तब भी हम जालंधर की नौ में से चार सीटें ही जीत सके थे.

पंजाब ने परिवारवाद की राजनीति को दी शिकस्त
अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस समय हमने जालंधर की नौ में से सात विधानसभा क्षेत्रों में जीत हासिल की. उन्होंने कहा कि हमें जालंधर उपचुनाव में 34 फीसदी वोट मिले. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब के मतदाताओं ने परिवारवाद की राजनीति को शिकस्त दी है. केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के चुनाव प्रचार पर भी टिप्पणी की.

उन्होंने कर्नाटक चुनाव में जीत के लिए कांग्रेस को भी बधाई दी और कहा कि बीजेपी को ये समझ जाना चाहिए कि ये पैंतरे (कम्युनल प्रचार) काम नहीं कर रहे. केजरीवाल ने कर्नाटक में बीजेपी की हार पर कहा कि जनता विकास कार्य चाहती है. केजरीवाल ने कर्नाटक की जीत के लिए कांग्रेस को बधाई भी दी. वहीं, आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने ट्वीट कर कहा है कि मेरे नानक जालंधर ने इस दिन को मेरे लिए और भी खास और यादगार बना दिया है.

 

About bheldn

Check Also

एलन मस्‍क का बदल चुका है प्‍लान? टेस्‍ला के निकट भविष्‍य में भारत आने की संभावनाएं कम

नई दिल्‍ली भारत में टेस्‍ला की एंट्री पर बड़ा अपडेट है। मुमकिन है कि यह …