चुनाव के लिए 45 साल के नेता ने किया था ‘चट मंगनी पट ब्याह’, खुल गई किस्मत

रामपुर ,

यूपी के नगरीय निकाय चुनाव की शनिवार को हुई मतगणना में जबरदस्त उलटफेर दिखाई दिया. समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान का रामपुर नगर पालिका पर पिछले दशकों से चल रहा वर्चस्व खत्म हो गया. नगर पालिका परिषद रामपुर के अध्यक्ष पद पर सना खानम ने 10 हजार 958 वोटों से जीत कर सबको चौंका दिया. ध्यान देने वाली बात यह है कि सना खानम अपनी ‘चट मंगनी-पट ब्याह’ की वजह से सुर्खियों में आई थीं.

45 साल के नेता मामून शाह खान ने 45 घंटों के अंदर सना खानम से रिश्ता तय कर शादी रचाई थी. दरअसल, चुनावी नामांकन की अंतिम तिथि 17 अप्रैल थी और 15 अप्रैल को मामून और सना शादी के बंधन में बंध गए थे.

क्या है पूरी कहानी?
दरअसल, रामपुर के स्थानीय नेता मामून शाह खान ने नगर पालिका अध्यक्ष पद पर चुनाव लड़ने के लिए जी जान से तैयारी की थी. लेकिन जब आरक्षण की सूची जारी हुई तो उनका सपना टूटने की कगार पर था, क्योंकि रामपुर नगरपालिका अध्यक्ष पद महिला के लिए आरक्षित हो गया था. मामून शाह खान ने इसका अनोखा रास्ता निकाला और बिना देर किए दुल्हन ढूंढकर नामांकन की अंतिम तिथि (17 अप्रैल) से मात्र दो दिन पहले ही 15 अप्रैल को शादी कर ली.

5 साल इंतजार किया
मामून शाह खान ने बताया कि रामपुर नगर पालिका अध्यक्ष सीट महिला के लिए आरक्षित होने के कारण ऑप्शन था कि चुनाव के लिए 5 साल तक इंतजार किया. लेकिन जनता के बीच काम करने का मन था, इसलिए शादी करने का फैसला किया.

मामून शाह खान ने सना खानम से चुनाव लड़ने रचाई शादी.
उधर, मामून शाह को उनकी पार्टी कांग्रेस ने टिकट देने से इनकार कर दिया तो उन्होंने पत्नी सना के साथ आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया. फिर AAP के टिकट पर नवविवाहिता को चुनाव लड़ाकर फतह हासिल कर ली.

नगर पालिका चुनाव परिणाम में आम आदमी पार्टी (AAP) की उम्मीदवार सना खानम को 43 हजार 131 वोट मिले. जबकि दूसरे नंबर पर सत्तारूढ़ दल भाजपा की मुसर्रत मुजीब रहीं, जिन्हें 32 हजार 173 मत हासिल हुए. समाजवादी पार्टी की फातिमा जबीं 16 हजार 273 वोट पाकर तीसरे स्थान पर रहीं.

आम आदमी पार्टी की विजयी उम्मीदवार सना खानम ने ऐतिहासिक जीत के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा, ”बस, अब आप (जनता) की बात होगी और AAP के साथ होगी.” जब पूछा गया कि चुनाव पीरियड में शादी को लेकर एक कॉन्ट्रैक्ट मैरिज की बात चल रही थी. इस पर क्या कहेंगी? इस पर सना खानम ने बोलीं, ”इसका जवाब लोगों ने दे दिया है.”

AAP की विजयी प्रत्याशी सना ने रामपुर में जीत हासिल करने पर जनता का शुक्रिया अदा करने के सवाल पर कहा, ”रामपुर के हर एक इंसान का शुक्रिया है. सबकी दुआएं हैं. सबकी मेहनत है. मेरी तरफ से भी शुक्रिया और मामून साहब की तरफ से भी शुक्रिया.

वहीं, सना खानम से जब सवाल पूछा गया कि नगर पालिका का कांटों भरा ताज है. इसको किस तरह से मानती हैं? जवाब में खानम बोलीं, कितनी भी मुश्किलें हों, अगर जनता साथ में है तो मुझे नहीं लगता कि कोई भी मुश्किल बड़ी मुश्किल हैं.”

बहरहाल, 45 साल के मामून खान शाह की बेगम बनीं सना खानम ने आजम खान के गढ़ रामपुर नगर पालिका को जीतकर इतिहास रच दिया है. 31 साल की सना खानम के लिए उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव जीतना किसी चुनौती से कम नहीं था. सब कुछ इतना आनन फानन में हुआ कि हर कोई दंग रह जाएगा. बीते 15 अप्रैल से 13 मई के बीच सना ने शादी भी रचाई, राजनीति में शामिल भी हुईं. AAP का टिकट हासिल किया. नामांकन दाखिल किया, प्रचार किया और नगरपालिका चुनाव भी जीत लिया.

 

About bheldn

Check Also

BPSC पेपर लीक मामले में एक महिला समेत 5 गिरफ्तार, आरोपी उज्जैन से लाए गए पटना

पटना, बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (BPSC) द्वारा ली गई शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले …