कंगाल होते पाकिस्तान को लग गया चूना… इमरान समर्थकों ने फूंक डाले 25 करोड़

नई दिल्ली,

बीते हफ्ते पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खानकी गिरफ्तारी के विरोध में देशभर में हिंसक प्रदर्शन हुए थे. बड़ी संख्या में पाकिस्तान के विभिन्न शहरों की सड़कों पर उतरे पीटीआई समर्थकों ने जमकर उत्पात किया. सरकारी और निजी संपत्तियों को नष्ट किया गया. प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के आवास तक पर पेट्रोल बम से हमला किया गया.

पुलिस ने इस हिंसा के संबंध में 250 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें 76 संदिग्धों को रावलपिंडी GHQ पर हुए हमले के संबंध में गिरफ्तार किया गया है. आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान पर ये प्रदर्शन भारी पड़े हैं. इन प्रदर्शनों में 25 करोड़ रुपये की निजी और सार्वजनिक संपत्तियां नष्ट हुई हैं.

रावलपिंडी पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक, हथियारबंद शरारती तत्वों ने डीपीओ इंडस्ट्रियल एरिया में जमकर उत्पात मचाया. देश में तीन दिनों तक हुई हिंसा में रामना, तारनोल और सांगजनी पुलिस स्टेशनों पर फायरिंग भी की.

रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रदर्शनकारियों ने 12 वाहनों और 34 मोटरसाइकिलों में आग लगा दी जबकि एक एसएमजी राइफल, 12 बोर की एक राइफल, 42 एंटी राइट किट्स और तीन वायरलेस सेट शरारती तत्वों से छीन लिए गए. पुलिस ने अभी तक हिंसा मामले में 26 केस दर्ज किए हैं. पुलिस ने अभी तक 564 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है जबकि 26 केस दर्ज किए गए हैं. गिरफ्तार किए गए 564 लोगों में से 552 लोगों के नाम एफआईआर में नामजद हैं.

प्रदर्शनकारियों का उत्पात
प्रदर्शनकारियों ने सरकारी और निजी वाहनों में तोड़फोड़ की. कुल मिलाकर 12 वाहन और 34 मोटरसाइकिल क्षतिग्रस्त की गई. हिंसा में 82 लोग घायल हुए हैं, जिनें एक एसपी, दो एएसपी और 11 एफसी अधिकारी शामिल हैं.

पुलिस अधीक्षक डॉ. अकबर नासिर खान का कहना है कि इन दंगों में शामिल लोगों की सीसीटीवी वीडियो के जरिए पहचान की जा रही है. शरारती तत्वों की पहचान के लिए छापेमारी की जा रही है. इस्लामाबाद पुलिस ने लोगों से भी पुलिस का सहयोग करने का आह्वान किया है.

जीएचक्यू हमले के संदिग्ध हिरासत में
रावलपिंडी में पुलस ने 264 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है, जिनमें 76 संदिग्ध भी शामिल हैं. हिरासत में लिए गए संदिग्धों की पहचान अहसान, अब्दुल्ला, इदरिस, वकास, अयाज, कमारुज जमान, उमर, अली हुसैन, फरहादुल्लाह, इस्मत, अबू बक्र, सज्जाद मुनीर, नबील, सदाकत, नुमान, आमिर शाहिद, फरहाद, शहरयार, लाल शाह, अकमल, अदील, पीरजादा शाहबाज, अरशद, मुनव्वर और सैयद कमर शामिल हैं.

इमरान किस केस में गिरफ्तार हुए थे?
पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान को अल कादिर ट्रस्ट मामले में मंगलवार को गिरफ्तार किया गया था. उन्हें नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) और पाक रेंजर्स ने इस्लामाबाद हाई कोर्ट के बाहर से गिरफ्तार किया था, जिसके बाद से देशभर में जमकर बवाल हुआ. वह रिहा तो हो गए हैं, लेकिन अब भी पीटीआई समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प की सूचना सामने आ रही हैं.

पाकिस्तान के कई बड़े शहरों में बड़ी तादाद में इमरान खान के समर्थक सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. गिरफ्तारी से सरकार के खिलाफ गुस्सा जाहिर होना चाहिए था, लेकिन पीटीआई समर्थकों ने ठीक इसके उलट सेना को निशाना बनाना शुरू कर दिया. प्रदर्शनकारियों ने सैन्य प्रतिष्ठानों, उनके कार्यालयों और घरों पर हमले करने शुरू कर दिए.

 

About bheldn

Check Also

अबू धाबी में मंदिर बनवाया इसलिए अल्‍लाह का कहर टूटा… पाकिस्तानियों की नफरत फिर आई सामने

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के लोग दिन रात सिर्फ धर्म की बात करते हैं। दुनिया में कहीं …