आजादी से लेकर जन्म तक की बात, बागेश्वर बाबा के ‘हिन्दू राष्ट्र’ पर सीएम नीतीश ने खूब सुनाई खरी खोटी

पटना

बिहार में बागेश्वर बाबा को लेकर सियासत तेज है। आरजेडी के नेता पहले से ही धीरेंद्र शास्त्री पर हमलावर हैं। इन सब के बीच सीएम नीतीश कुमार भी बागेश्वर बाबा पर भड़क गए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जब बागेश्वर बाबा के हिंदू राष्ट्र वाले बयान को लेकर सवाल किया गया तो वे भड़क गए। सीएम नीतीश ने कहा कि धीरेंद्र शास्त्री को इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए। हिंदू मुस्लिम सब एक हैं। उन्हें इस तरह के बयान देने से बचना चाहिए।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आजादी की लड़ाई के बाद सबकी सहमति से संविधान बना। राष्ट्रपिता द्वारा किए गए नामकरण को सभी को स्वीकार करना चाहिए…जो ( बागेश्वर धाम के प्रमुख धीरेंद्र शास्त्री ) लोग बोल रहे हैं क्या उनका उस समय जन्म हुआ था? हम सब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को मानते हैं। हम उसी के आधार पर काम कर रहे हैं। उन्हें इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए।

पटना में धीरेंद्र शास्त्री की हनुमंत कथा
बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर धीरेंद्र शास्त्री की हनुमंत कथा पटना के तरेत पाली में चल रही है। दावा किया जा रहा है कि इस कथा को सुनने के लिए प्रतिदिन लाखों लोग पहुंच रहे हैं। बागेश्वर धाम सरकार का यह कार्यक्रम 17 मई तक चलेगा। आरजेडी जहां धीरेंद्र शास्त्री के पटना दौरे को लेकर शुरू से विरोध में खड़ी है। मंगलवार को लालू यादव ने धीरेंद्र शास्त्री को बाबा मानने से ही इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वे बाबा को नहीं जानते हैं।

दूसरी ओर आरजेडी के नेता और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव कथा में जाने से साफ इनकार कर दिया। वहीं बीजेपी महागठबंधन पर हिंदू विरोधी होने का आरोप लगा रही है। भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने के बयान को लेकर धीरेंद्र शास्त्री चर्चा में रहे हैं। पटना के तरेत पाली मठ में हो रही हनुमंत कथा में भी उन्होंने हिंदू राष्ट्र बनाने की बात कही। धीरेंद्र शास्त्री के इसी बयान पर बिहार सीएम नीतीश ने निशाना साधा।

About bheldn

Check Also

महाराष्ट्र: BJP ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया एकनाथ शिंदे और अजित पवार का नाम

नई दिल्ली, भाजपा ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार …