जफरयाब जिलानी का निधन, बाबरी मस्जिद मामले की पैरवी को लेकर बटोरी थी सुर्खियां

नई दिल्ली

वरिष्ठ अधिवक्ता और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव जफरयाब जिलानी (73) का हाल ही में सिर में चोट लगने के बाद आज लखनऊ में निधन हो गया। उनकी कुछ समय से तबीयत ठीक नहीं थी। बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के संयोजक के तौर पर वरिष्ठ अधिवक्ता जिलानी ने सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि मामले में पैरवी की थी।

बेटे ने दी जानकरी
जफरयाब जिलानी (73) के बेटे नजम जफरयाब ने पीटीआई-भाषा को बताया कि उनके पिता का लंबी बीमारी के बाद सुबह करीब 11 बजकर 50 मिनट पर स्थानीय अस्पताल में निधन हो गया। उनके परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और एक बेटी है। बेटे ने बताया कि जफरयाब जिलानी को बुधवार शाम लखनऊ के ऐशबाग कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा।

अयोध्या बाबरी विवाद में मुस्लिम पक्ष के वक़ील ज़फ़रयाब जिलानी का लखनऊ में निधन हुआ। ज़फ़रयाब जिलानी मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मेंबर रहे। इसके अलावा बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के अध्यक्ष और यूपी के अपर महाधिवक्ता रह चुके थे। वह लम्बे समय से बीमार चल रहे थे।

मौलवी खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा, “जफरयाब जिलानी ने लंबे समय तक हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक बाबरी मस्जिद मामले की पैरवी की, अल्लाह उनकी मगफिरत करे और उन्हें जन्नत में मक़ाम दे, उनके इंतेकाल से चाहने वाले लोग गमज़दा हैं”

2021 में हो गया था ब्रेन हेमरेज
जफरयाब जिलानी (73) के बेटे ने जानकारी दी कि उन्हें 2021 में भी ब्रेन हेमरेज हो गया था, उसके बाद लंबे समय से काहल रहे इलाज के बाद फिलहाल उनकी हालत ठीक थी। आजतक की खबर के मुताबिक नजफ जिलानी ने बताया कि अचानक उनके पिता का ब्लड प्रेशर फ्लक्चुएट होने लगा, जिस वजह से उनका निधन हो गया. नजफ ने बताया कि वह आईसीयू वॉर्ड में डॉक्टर मनु सेठ की निगरानी में थे।

 

About bheldn

Check Also

दोबारा नहीं होगी NEET UG परीक्षा, सुप्रीम कोर्ट का बड़ा आदेश, कहा- खामी के पर्याप्त सबूत नहीं

नई दिल्ली , नीट पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है. सीजेआई की बेंच …