लव, से*स, धोखा और कत्ल, जिसे बोलता था दीदी उसे गर्लफ्रेंड बनाकर दी खौफनाक मौत

केरल

केरल के पलक्कड़ जिले में एक संगीत शिक्षक ने अपनी गर्लफ्रेंड को इस तरीके से मारा कि पुलिस को इस केस को सुलझाने में दो साल लग गए। मामला 2020 का है। उस वक्त पूरे देश में कारोना का हाहाकार मचा था मगर 33 साल के प्रशांत नांबियार के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था। उसने अपनी 42 साल की प्रेमिका सुचित्रा पिल्लई को दर्दनाक मौत दी फिर सारे सबूत मिटा दिए। पुलिस ने अब जाकर गूगल सर्च हिस्ट्री की सहायता से इस मामले का खुलासा किया है।

आध्यात्मिक गुरु ने अपनी पत्नी को कैसे मारा?
अपनी प्रेमिका को मारने से पहले प्रशांत ने गूगल पर सर्च किया था कि आध्यात्मिक गुरु ने अपनी पत्नी को कैसे मारा? इसके बाद उसने सुचित्रा को मारने की योजना बनाई। योजना ऐसी कि पुलिस का दिमाग भी चकरा गया। उसने गूगल की मदद से सुचित्रा की जान ली औऱ फिर शव को ठिकाने लगा दिया। उसने इस तरीके से वारदात को अंजाम दिया कि वह पुलिस की पकड़ में ना आ सके। इसके लिए उसने कुछ मर्डर वाली फिल्में भी देखीं।

इस मामले में कोर्ट ने सोमवार को प्रशांत को कोल्लम जिले के नादुविलक्करा गांव की रहने वाली सुचित्रा की हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा सुनाई। प्रशांत को 14 साल की जेल की सजा और 2.5 लाख रुपये का जुर्माना भी भरना होगा।

दोनों की मुलाकात 2019 में हुई थी
असल में दोनों की मुलाकात प्रशांत के बेटे के नामकरण में हुआ। वह पहले से शादीशुदा था। वहीं सुचित्रा का दो बार तलाक हो चुका था। वह एक ब्यूटीशियन ट्रेनर थी। वह अपने माता-पिता की इकलौती संतान थी। वह प्रशांत की रिश्तेदार थी। पहले तो प्रशांत ने उसे दीदी (चेची) कहा। इसके बाद दोनों की सोशल मीडिया पर बात होने लगी। दोनों एक-दूसरे के करीब आ गए। सुचित्रा का शादी पर से भरोसा उठ गया था। वह प्रशांत से शादी नहीं करना चाहती थी मगर बच्चा चाहती थी। उसने प्रशांत ने अपनी इच्छा के बारे में बताया। प्रशांत यह सोचकर घबरा गया कि अगर ऐसा हुआ तो सभी को उनके रिश्ते के बारे में पता चल जाएगा। इसलिए उनसे सुचित्रा को रास्ते से हटाने की योजना बनाई।

हत्या की बकायदा योजना बनाई
प्रशांत ने सुचित्रा को मारने का फैसला करने के बाद उसे पलक्कड़ में अपने किराए के मकान में बुलाया। उसने सुचित्रा से कहा कि वे मार्च में कुछ दिनों के लिए साथ रहेंगे। इसके बाद उसने अपनी पत्नी और बच्चे को कोल्लम में अपने घर और अपने माता-पिता को कोझिकोड भेज दिया। प्रशांत ने सुचित्रा को काले रंग के कपड़े पहनकर रात में आने को कहा ताकि कोई उसे देख ना पाए। सुचित्रा भी अपने पार्लर औऱ घऱवालों को झूठ बोलकर उसके 270 किलोमीटर दूर किराये के घऱ में आ गई। दोनों कुछ दिन साथ रहे। एक रात को प्रशांत ने सुचित्रा के सिर को जमीन पर पटक दिया। इसके बाद लैंप की तार से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। उसने लाश को एक चादर में लपेट कर रख दिया।

गूगल पर सर्च किया शव को कैसे ठिकान लगाएं
उसने शव को ठिकाने लगाने के लिए गूगल का सहारा लिया। उसने कुछ फिल्में देखीं। इसके बाद उसने सुचित्रा के शव के टुकड़े किए। उसके पैरों को घुटने के नीचे से काट दिया। शव के टुकड़े को उसने घर के पीछे जमीन में गाढ़ दिया औऱ सीमेंट से ढक दिया ताकि कुत्ते सूंघ ना सके। उसने बाकी शव और खून लगे कपड़ों को जला दिया। इसके बाद हत्या में शामिल हथियार को जमीन में गाड़ दिया। इस समय उसने अपनी फोन बंद रखा। जब वह त्रिशूर गया तो मन्नुथी पुलिस स्टेशन के पास अपना फोन ऑन किया ताकि सभी को यह लगे कि वह यहीं पर था। बाद में उसने सर्च व चैट हिस्ट्री क्लीयर कर अपना फोन और सिम डिस्ट्रॉय कर दिया।

इधर जब सुचित्रा घर नहीं पहुंची तो घऱवालों को उसकी चिंता हुई। उन्होंने पार्लर फोन किया तो पता चला कि वह झूठ बोलकर कहीं गई है। इसके बाद जांच शुरू हुई। उस वक्त कोरोना महामारी का दौर चल रहा था। पुलिस को टाइम लगा मगर सुचित्रा की कॉल डिटेल से प्रशांत का पता लग गया। इसके बाद साइबर हेल्प के जरिए उसकी सर्च हिस्ट्री और चैट निकाल ली गई। फिलहाल वह जेल में है।

 

About bheldn

Check Also

BPSC पेपर लीक मामले में एक महिला समेत 5 गिरफ्तार, आरोपी उज्जैन से लाए गए पटना

पटना, बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (BPSC) द्वारा ली गई शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले …