‘क्या फिर से ब्लैक मनी आ गई, बताए मोदी सरकार’, 2000 का नोट बंद करने पर राजस्थान सीएम का सवाल

जयपुर

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 2 हजार रुपये के नोट को सितंबर 2023 के बाद चलन से बाहर करने की घोषणा की है। आरबीआई इस घोषणा को लेकर राजस्थान के मुखमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा। सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि आपने 1000 रुपए का नोट बंद कर 2000 का नोट लाए। 2 हजार के नोट से ब्लैक मनी बनाने के ज्यादा चांस होते है। तब आपने 500 और 1000 के नोट बंद क्यों किए। ये रहस्य बना हुआ है। अब आपने 2000 रुपये का नोट बंद क्यों किया? आपकी मंशा क्या है? इनको बताना चाहिए कि हमने (सरकार) इन कारणों से 2000 रुपए के नोट को बंद करने का फैसला लिया है।

2000 रुपये का नोट बंद क्यों कर रहे हैं: सीएम गहलोत
सीएम गहलोत इस वक्त कर्नाटक में बनने वाली सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए बेंगलुरु में है। सीएम गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार को बताना चाहिए कि 2000 रुपये का नोट बंद क्यों कर रहे हैं। क्या फिर से ब्लैक मनी आ गई है या फेक करेंसी आ गई है, बताएं वो। सीएम ने कहा कि नोट बदलने का टाइम तो देना ही पड़ता है। पहली बार जब इन्होंने नोटबंदी की थी, तब टाइम न देकर बलंडर किया था। टाइम देना एक अलग बात है। लेकिन देश को बताएं कि हमने इन कारणओं से 2 हजार रुपये का नोट बंद करने का फैसला किया है।

23 मई से 2000 रुपये के नोट बदले जा सकेंगे
आरबीआई ने आज 2000 रुपये के नोट को सितंबर 2023 के बाद चलन से बाहर करने की शुक्रवार को घोषणा की। इस मूल्य के नोट को बैंकों में 23 मई से जाकर बदला जा सकता है। आरबीआई ने शाम को जारी एक बयान में कहा कि अभी चलन में मौजूद 2000 रुपये के नोट वैध मुद्रा बने रहेंगे। आरबीआई ने बैंकों को 30 सितंबर तक ये नोट जमा करने और बदलने की सुविधा देने को कहा है। बैंकों में 23 मई से 2000 रुपये के नोट बदले जा सकेंगे। हालांकि एक बार में सिर्फ 20 हजार रुपये मूल्य के नोट ही बदले जाएंगे।

About bheldn

Check Also

सात फेरों की गांठ खोलकर दुल्‍हन बोली- शादी नहीं करनी, वजह सुनकर सब रह गए हैरान

कानपुर: कानपुर में बाराती उस समय हैरान रह गए जब दुल्‍हन ने चौथा फेरा लेने …