पांच वादों पर कितना खर्च, कैसे पूरी होंगी योजनाएं? सिद्धारमैया बोले- कितना भी बोझ पड़े, लागू करके रहेंगे

नई दिल्ली,

कर्नाटक में कांग्रेस ने अपनी सरकार बना ली है. सिद्धारमैया ने शनिवार को यहां दूसरी बार सीएम पद की शपथ ली और फिर तुरंत ही एक्शन में आ गए. जैसा कि वादा किया गया था, सरकार बनकर फ्लोर पर आते ही सिद्धारमैया ने पहली कैबिनेट बैठक बुलाई और उन पांच गारंटियों को लागू करने के आदेश जारी किए गए हैं, जिनका वादा पार्टी ने चुनाव से पहले किया था.

सिद्धारमैया ने शपथ लेने के बाद कहा, “हम ऐसा प्रशासन देंगे जिसकी लोगों ने हमसे अपेक्षा की है. कैबिनेट की बैठक में पांच गारंटी पारित की जाएंगी और इसके लिए आज ही आदेश जारी कर दिया गया है. मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद नए सीएम बने सिद्धारमैया ने विधान सभा में पहली कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की. बैठक के बाद उन्होंने पत्रकारों से कहा कि, हमने मंत्रिमंडल की पहली बैठक में कांग्रेस की पांच गारंटी को सैद्धांतिक तौर पर मंजूरी दी है.

राहुल गांधी ने कहा- जो कहते हैं, वही करते हैं
दरअसल, शपथ ग्रहण के दौरान अपने संबोधन में ही राहुल गांधी ने आज के आज पांच वादों को पूरा करने की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि ‘कर्नाटक की जनता को मैं दिल से और कांग्रेस पार्टी की ओर से धन्यवाद करता हूं. आपने पूरी तरह कांग्रेस पार्टी को समर्थन दिया. कर्नाटक की जनता ने बीजेपी के भ्रष्टाचार को हरा दिया. उन्होंने कहा, ‘ हम झूठे वादे नहीं करते हैं. जो कहते हैं, वह करते हैं. एक-दो घंटे में कर्नाटक सरकार की पहली कैबिनेट बैठक होगी जिसमें हमारे पांच वायदे कानून बन जाएंगे. हम जो कहते हैं, वह हम करते हैं. सरकार का लक्ष्य हमारे किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार, युवाओं की रक्षा करना और उनके भविष्य को सुनहरा बनाना है, कर्नाटक के लोगों ने कांग्रेस को जो ताकत दी है, हम उसे भूल नहीं सकते हैं. यह सरकार कर्नाटक के लोगों की है. हम दिल से आपके लिए काम करेंगे.’

क्या हैं पांच वायदे
1- कांग्रेस पार्टी ने पहला वादा किया था कि हर परिवार को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली दी जाएगी.
2- दूसरा वादा है, ग्रैजुएट बेरोजगार को 3 हजार रुपये मासिक भत्ता और डिप्लोमा होल्डर्स छात्रों को डेढ़ हजार रुपये मासिक भत्ता.
3- कांग्रेस का तीसरा वादा है, प्रत्येक परिवार की एक महिला को दो हजार रुपये मासिक भत्ता दिया जाएगा.
4- हर गरीब व्यक्ति को 10 किलोग्राम मुफ्त अनाज.
5- 5वां वादा है, हर महिला को सरकारी बसों में मुफ्त सफर की सुविधा मिलेगी.

सबसे पहले गृह ज्योति योजना लागू
इन पांच गारंटी योजनाओं को लागू करने के बाद सिद्धारमैया ने मीडिया से बातचीत में जो बातें कहीं, उन पर ध्यान देने की जरूरत हैं. इस बातचीत में सीएम सिद्धारमैया ने योजनाओं में लगने वाले बजट पर बात की साथ ही, वह इसे कैसे जुटाने वाले हैं, इसे भी बताया. सिद्धारमैया ने कहा कि राज्य सबसे पहले गृह ज्योति योजना लागू कर रहा है. इसके तहत 200 यूनिट बिजली मुफ्त होगी. इस पर करीब 1200 करोड़ रुपये खर्च होंगे. सीएम ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि हमारी सरकार के लिए एक साल में 50,000 करोड़ रुपये जुटाना असंभव है.

कैसे लागू की जाएंगी योजनाएं
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि गृह लक्ष्मी योजना पर काम जारी है. योजना में महिलाओं को 2,000 रुपये दिए जाने का प्लान है. सिद्धारमैया ने कहा, ‘हम अभी भी काम कर रहे हैं कि हम इस पर कितना खर्च करेंगे. कैबिनेट की अगली बैठक के बाद हम आपको इसकी कीमत बताएंगे.’इसी कड़ी में अगली योजना बेरोजगार स्नातकों को इस शैक्षणिक वर्ष से दो साल के लिए प्रति माह 3,000 रुपये दिए जाने की है. महिलाओं के लिए बस यात्रा मुफ्त होगी. उनके लिए मुफ्त सवारी के लिए पास जारी होंगे. यह योजना केवल कन्नडिगों के लिए है. सीएम ने कहा कि इससे सरकारी खजाने पर कितना भी बोझ पड़ेगा, हम इसे लागू करेंगे.

सत्र के दौरान मिलेंगे नए विधान सभा अध्यक्ष
मुख्यमंत्री ने कहा कि इनमें से अधिकांश योजनाओं और गारंटी का ब्योरा अगली बार कैबिनेट की बैठक में तय किया जाएगा. “हम विवरणों का पता लगाएंगे और उन्हें फिर शेयर करेंगे. अभी सभी विवरणों पर गौर करना जरूरी है. जैसे बेरोजगार युवा कौन हैं और कौन किस योजना के तहत कवर किया जाएगा. विधानसभा सत्र सोमवार से बुधवार तक तीन दिनों के लिए आयोजित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि वरिष्ठतम विधायक आरवी देशपांडे से अनुरोध किया गया है कि वे प्रोटेम स्पीकर बनें जो विधायकों को शपथ दिलाएंगे. शनिवार को कैबिनेट की पहली बैठक की अध्यक्षता करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए सिद्धारमैया ने यह भी कहा कि सत्र के दौरान नए विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा.

सिद्धारमैया ने लोगों को धन्यवाद द‍िया
शपथग्रहण के बाद मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने लोगों को धन्यवाद देते हुए कहा कि उनके आशीर्वाद के बिना कांग्रेस सत्ता में नहीं आ पाती. उन्होंने 10 मई को हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत का श्रेय कांग्रेस नेता राहुल गांधी को देते हुए कहा क‍ि चुनाव प्रचार मुहिम राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से शुरू हो गई थी. मैं राहुल और प्रियंका वाड्रा के साथ कांग्रेस के लिए प्रचार करने वाले सभी नेताओं को धन्यवाद देता हूं.

सोनिया गांधी ने जताया, जनता का आभार
कर्नाटक में सीएम के शपथग्रहण के बाद कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जनता का आभार जताया. उन्होंने कहा कि, कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार लोगों से किए वादे पूरे करेगी. मुझे गर्व है कि कैबिनेट की पहली बैठक में पांच गारंटी को मंजूरी दे दी गई. उन्होंने कहा कि कर्नाटक के लोगों ने जो जनादेश दिया है, वह गरीबों का कल्याण करने वाली सरकार के लिए है. और यह जनादेश भ्रष्टाचार और लोगों को बांटने वाली राजनीति के खिलाफ है.कांग्रेस पार्टी कर्नाटक की समृद्धि, शांति और प्रगति के लिए प्रतिबद्ध है. मैं कांग्रेस पार्टी को ऐतिहासिक जनादेश देने के लिए कर्नाटक की जनता को दिल से धन्यवाद देना चाहती हूं.

बोम्मई बोले- ईमानदारी से नहीं लिया फैसला
पूर्व सीएम और बीजेपी नेता बसवराज बोम्मई ने शनिवार (20 मई) को कहा कि सिद्धारमैया सरकार ने लोगों की उम्मीद के मुताबिक फैसला नहीं लिया. बसवराज बोम्मई ने कहा, कि कांग्रेस सरकार की घोषणा और पहली बैठक के बाद की घोषणाओं में काफी अंतर है. जनता ने काफी घोषणाओं और तत्काल कार्यान्वयन की उम्मीद की थी. मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की गईं घोषणाओं से कर्नाटक के लोग निराश हुए हैं. मुझे नहीं लगता कि उन्होंने अपना फैसला ईमानदारी से लिया है.”

 

About bheldn

Check Also

1 करोड़ नौकरियां और 2024 के लिए 24 वचन, RJD के ‘परिवर्तन पत्र’ में तेजस्वी ने किए ये वादे

पटना, देश में हो रहे लोकसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग से 6 दिन …