मुस्लिम युवक के साथ होने वाली थी बीजेपी नेता की बेटी की शादी, भारी विरोध के बाद कैंसिल

नई दिल्ली,

बीजेपी नेता और पौड़ी नगर पालिका अध्यक्ष यशपाल बेनाम की बेटी की शादी एक 28 मई को मुस्लिम युवक के साथ होनी थी, जिसे रद्द कर दिया गया है. पूर्व विधायक ने कहा कि बेटी की खुशी के लिए वह मुसलमान युवक के साथ शादी कराने के लिए राजी हो गए थे, लेकिन सोशल मीडिया और स्थानीय स्तर पर प्रतिक्रिया को देखते हुए फिलहाल शादी कैंसिल कर दी गई है.

बीजेपी नेता ने कहा, “जैसा माहौल बनाया गया है, उसे देखते हुए दोनों परिवारों ने साथ बैठकर यह फैसला लिया है कि जनप्रतिनिधि होने के नाते उन्हें पुलिस के साए में शादी करवाना शोभा नहीं देता. माहौल अनुकूल नहीं होने और जनता का ध्यान रखते हुए दोनों परिवारों ने तय किया है कि आगामी 26, 27 और 28 को होने वाले विवाह कार्यक्रम न किए जाएं.” वहीं, मोनिस के पिता रईस ने 28 मई को होने वाले विवाह कार्यक्रम रद्द होने की कोई वजह नहीं बताई है.

अमेठी के रहने वाले शख्स से होनी थी शादी
बता दें कि यशपाल बेनाम की बेटी मोनिका और उत्तर प्रदेश के अमेठी निवासी मोहम्मद मोनिस की शादी का कार्ड सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. जिसके बाद हिंदूवादी संगठनों वीएचपी, बजरंग दल ने शुक्रवार को कोटद्वार, पौड़ी में इस शादी के विरोध में प्रदर्शन किया था. उन्होंने बेनाम का पुतला भी फूंका था.

हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार छपवाया था कार्ड
विश्व हिंदू परिषद के पौड़ी के कार्यकारी जिलाध्यक्ष दीपक गौड़ ने ऐसे विवाह को गलत बताते हुए कहा, “बेनाम की बेटी को या तो इस्लाम धर्म कबूल कर लेना चाहिए या उनके होने वाले दामाद को हिंदू धर्म अपनाना चाहिए.” पहले यशपाल विवाह कार्यक्रम को पौड़ी के कंडोलिया मैदान में आयोजित करना चाहते थे, लेकिन व्यापार मंडल के विरोध बाद शहर से करीब छह किलोमीटर दूर घुड़दौड़ी इंजीनियरिंग कॉलेज के पास एक वेडिंग प्वाइंट में विवाह का आयोजन रखा और इसके लिए हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार शादी का कार्ड भी छपवाया. हालांकि 28 मई को तय यह विवाह कार्यक्रम रद्द हो गया है.

 

About bheldn

Check Also

महाराष्ट्र: BJP ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया एकनाथ शिंदे और अजित पवार का नाम

नई दिल्ली, भाजपा ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार …