योजना भवन में मिले काले धन को लेकर सतीश पूनियां ने लिखा अमित शाह को पत्र, जानिए क्या रखी मांग

जयपुर

योजना भवन के आईटी डिपार्टमेंट के बेसमेंट में करोड़ों रुपए की नगदी और सोना मिलने के मामले को लेकर भाजपा लगातार आक्रामक हो रही है। इसको लेकर बीजेपी की ओर से लगातार बड़े हमले किए जा रहे हैं। उधर इस मामले में भाजपा उपनेता प्रतिपक्ष सतीश पूनियां ने गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने भ्रष्टाचार के नए आयाम स्थापित किए है। इसको लेकर पूनिया ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर केंद्रीय जांच एजेंसियों के माध्यम से मामले की जांच करवाने की मांग की है।

सरकारी भवनों का काला धन छुपाने के लिए उपयोग
अमित शाह को भेजे पत्र में पूनिया ने कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा कि साढ़े 4 सालों में कांग्रेस सरकार में भ्रष्टाचार के कई मामले बढ़े हैं। वही भ्रष्टाचार को लेकर राज्य में कई नए आयाम स्थापित कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज में भ्रष्टाचारियों के हौसले इतने बुलंद है कि ये अपने काले धन व अपराधों के सबूतों को छुपाने के लिए सरकारी भवनों का उपयोग कर रहे हैं। उन्होंने राज्य सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि आशंका है कि राज्य सरकार इस मामले में निष्पक्ष जांच नहीं करवाएगी और दोषी लोगों को बचाने का प्रयास करेगी। पूनिया ने हमला करते हुए कहा कि राज्य के अधिकारी, मंत्री, पुलिस और निजी कंपनियों की मिलीभगत से राज्य की जनता की कमाई लूटी जा रही है। ऐसे में पूनिया ने केंद्रीय गृहमंत्री को पत्र के माध्यम से निष्पक्ष जांच की मांग की है।

भ्रष्टाचार की गंगोत्री आखिर सचिवालय तक पहुंच गई- राठौड़
योजना भवन में करोड़ों रुपए की नगदी मिलने के मामले में भाजपा नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी सरकार पर जमकर हमला बोला। इस दौरान उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि भ्रष्टाचार की गंगोत्री आखिर सचिवालय तक पहुंच गई है। उन्होंने आगे कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिस सचिवालय में बैठकर शासन चलाते हैं। वहां करोड़ों रुपए की नकदी और सोना बरामद होना इस बात का प्रमाण है कि गहलोत सरकार भ्रष्टाचार के संरक्षणदाता की भूमिका में है। इस दौरान राठौड़ ने 2000 के नोटों के चलन से बाहर करने के बयान पर सीएम गहलोत पर पलटवार करते हुए कहा कि आपका सचिवालय 2000 के अनगिनत नोट क्यों उगल रहा है।

नगदी व सोना मिलने का यह हैं पूरा मामला
गत शुक्रवार देर शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस कमिश्नर जयपुर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि योजना भवन में IT डिपार्टमेंट के बेसमेंट में दो अलमारियां रखी थी। इन दोनों अलमारियों को खोलकर देखा गया तो, इसमें से लेपटॉप बैग और ट्रॉली वाला सूटकेस मिला। सूटकेस में 2000 और 500 के नोट थे। इसकी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। यहां से 2 करोड़ 31 लाख 49 हजार की रकम बरामद की गई। इसके अलावा एक किलोग्राम का गोल्ड बिस्कुट भी मिले। इस दौरान मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया गया हैं। जो मामले की गहनता से जांच करेगी।

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …