संगम नहाने से पहले पढ़ लें ये खबर… 5 दिन में 6 लोगों की डूबने से हुई मौत, जानिए क्या है कारण?

प्रयागराज

प्रयागराज में पिछले 5 दिन में 6 लोगों की स्नान के दौरान डूबने से मौत हो गयी है। सोमवार को दोपहर के समय संगम क्षेत्र में स्नान कर रहे 3 लड़के डूब गए। शोर सुनकर जल पुलिस और स्थानीय गोताखोरों ने एक लड़के को बचा लिया, लेकिन 2 लड़कों का अभी तक पता नहीं चला है। जल पुलिस लगातार सर्च ऑपरेशन चला रही है।

मिली जानकारी के अनुसार नगर निगम के सफाई कर्मचारी बबलू के दो रिश्तेदार आदित्य कुमार पुत्र नन्हे लाल (21) और गोविंद कुमार पुत्र कामता प्रसाद (19) मध्यप्रदेश से आये हुए थे। सुबह करीब 10 बजे बबलू आदित्य और गोविंद संगम में स्नान करने पहुंचे। स्नान के दौरान तीनों लड़के गहरे पानी की तरफ जाकर नहाने लगे। अचानक से तीनों लड़के डूबने लगे। शोर सुनकर जल पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे। ऐसे में जल पुलिस बबलू को बचाने में कामयाब रही लेकिन आदित्य और गोविंद का पता नहीं चला। जल पुलिस के जवान और गोताखोर डूबे दोनों लड़कों की खोज में लगे हैं।

वहीं 18 मई गुरुवार को शिवकुटी थाना क्षेत्र के कोटेश्वर महादेव मंदिर के सामने गंगा घाट पर स्नान करते समय एमएनएनआई से बीटेक करने वाले दो छात्र दीपेंद्र सिंह निवासी अलवर राजस्थान और विकास मौर्य भिखारीपुर मऊ डूब गए गये। दो दिन तक सर्चिंग के बाद पुलिस ने दोनों छात्रों का शव मिल पाया था। 20 मई शनिवार को फाफामऊ के पास गंगा नदी में शांतिपुरम फाफामऊ के रहने वाले 12वीं के दो छात्र चाहत द्विवेदी और कृष्णा मिश्रा डूब गए थे। दूसरे दिन इनका शव कर्जन ब्रिज के नीचे पानी में उतराया मिला था।

गर्मी बढ़ने के कारण बड़ी संख्या में लोग गंगा और संगम स्नान के लिए जा रहे हैं। घाटों की स्थिति का अंदाज न होने के कारण वह गहराई में चले जा रहे हैं। लेकिन लगातार हो रही घटनाओं को देखते हुए अभी तक गंगा, यमुना नदी में विभिन्न जगहों पर बने डेंजर जोन को चिन्हित नहीं किया गया, और न ही गंगा यमुना के कछारी क्षेत्र में के घाटों पर बचाव संबंधी जागरुकता अभियान ही शुरू किया गया।

About bheldn

Check Also

महाराष्ट्र: BJP ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया एकनाथ शिंदे और अजित पवार का नाम

नई दिल्ली, भाजपा ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार …