इमरान ने ISI चीफ को क्यों हटाया, बुशरा बीबी के राज खुलने का था डर?

नई दिल्ली,

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने इमरान खान पर एक बार फिर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि सेना प्रमुख जनरल असीम मुनीर को 2019 में आईएसआई के प्रमुख पद से इसलिए हटाया गया था क्योंकि मुनीर के पास पर्याप्त सबूत थे कि इमरान की पत्नी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं.मुनीर इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के प्रमुख थे. लेकिन 2019 में इमरान खान के पीएम बनने के बाद उनके स्थान पर लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद को आईएसआई का प्रमुख बनाया गया था.

शहबाज शरीफ ने सोमवार को नेशनल असेंबली को संबोधित करते हुए कहा कि मैं यह पूरी जिम्मेदारी के साथ कहता हूं कि सेना प्रमुख मुनीर जब आईएसआई के डीजी थे. उन्होंने उस समय इमरान को बताया था कि उनकी पत्नी बुशरा बीबी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं. यह बात मुनीर ने पूरे तथ्यों के साथ उन्हें बताई थी.

शरीफ ने कहा कि लेकिन इमरान इससे नाराज हो गए थे और बाद में तो आपको पता ही है कि क्या हुआ था. पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने हाल ही में ट्वीट कर द डेली टेलीग्राफ की उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया था, जिसमें दावा किया गया था कि मुनीर को निजी मतभेदों की वजह से इरमान खान ने हटा दिया था. इस रिपोर्ट में दावा किया गया था कि इमरान ने पीएम पद संभालने के आठ महीने बाद जून 2019 में मुनीर को पद से हटा दिया था. क्योंकि मुनीर उनकी पत्नी के भ्रष्टाचार मामले की जांच करना चाहते थे.

इसके बाद इमरान ने ट्वीट कर कहा था कि इस आर्टिकल में दावा किया गया है कि मैंने जनरल असीम को पद से हटा दिया क्योंकि वह मेरी पत्नी बुशरा बेगम के भ्रष्टाचार के मामलों के बारे में बताया था. यह पूरी तरह से गलत है. ना तो जनरल असीम ने मेरी पत्नी के भ्रष्टाचार के मामलों के कोई सबूत दिखाए और ना ही मैंने उनसे इस्तीफा देने को कहा.

 

About bheldn

Check Also

अबू धाबी में मंदिर बनवाया इसलिए अल्‍लाह का कहर टूटा… पाकिस्तानियों की नफरत फिर आई सामने

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के लोग दिन रात सिर्फ धर्म की बात करते हैं। दुनिया में कहीं …