मुश्किल से यूज हो रहे 2000 के नोट, RBI गवर्नर बोले- डेडलाइन बढ़ सकती है

नई दिल्ली

देश के बैंकों में आज यानी मंगलवार से 2000 रुपये के नोटों की बदलने और जमा करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। बैंक 2,000 रुपये के नोटों के रिवर्स फ्लो को मैनेज करने की तैयारी कर रहे हैं। आरबीआई (RBI) ने बैंकों से एक्सचेंज के लिए जमा किए गए नोटों और जमा किए गए नोटों के मूल्य का अलग-अलग दैनिक रेकॉर्ड बनाए रखने के लिए कहा है। केंद्रीय बैंक (RBI) ने कहा कि जरूरत पड़ने पर वह इस डेटा की मांग करेगा। आरबीआई ने बैंकों से गर्मी के मौसम को देखते हुए लोगों के लिए पर्याप्त छायादार वेटिंग रूम और पीने के पानी को बनाए रखने के लिए भी कहा है। बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2000 रुपये के नोट सर्कुलेशन से बाहर करने का फैसला किया है।

30 सितंबर तक जमा कर सकते हैं नोट
आरबीआई (RBI) की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक क्लीन नोट पॉलिसी के तहत नोट को सर्कुलेशन से बाहर किया जा रहा है। केंद्रीय बैंक ने लोगों से 30 सितंबर, 2023 तक 2,000 रुपये के नोट को बदलने या बैंकों में जमा करने के लिए कहा है। इधर 22 मई को मीडिया से बातचीत में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा था कि 30 सितंबर, 2023 के बाद डेडलाइन बढ़ाई जा सकती है। हालांकि यह फैसला दो हजार रुपये के नोटों की संख्या के आधार पर लिया जाएगा।

एचडीएफसी बैंक ने भेजा मेल
एचडीएफसी बैंक (HDFC) ने ग्राहकों को एक ई-मेल में कहा है कि ग्राहक 20,000 रुपये प्रति दिन की सीमा के साथ 2,000 रुपये के नोट बदल सकते हैं। इधर पेट्रोल पंप और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स सहित कई व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को 2,000 रुपये के नोट मिल रहे हैं। फूड डिलीवरी ऐप Zomato के मुताबिक, शुक्रवार से प्लेटफॉर्म के 72% कैश-ऑन-डिलीवरी ऑर्डर का भुगतान 2,000 रुपये के नोटों में किया गया है।बैंक ऑफ बड़ौदा के एक रिसर्च नोट के मुताबिक अगर कुल 2,000 रुपये के नोटों में से 50 फीसदी भी बैंकों में जमा करा दिए जाएं तो जमा राशि में 1.8 लाख करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हो जाएगी।

About bheldn

Check Also

गर्मी को लेकर क्यों बढ़ रही टेंशन? लोकसभा चुनाव में लू वाला कनेक्शन समझ लीजिए

नई दिल्ली 2024 लोकसभा चुनाव में एक फेज की वोटिंग 19 अप्रैल को संपन्न हो …