माही हैं तो मुमकिन है… 10वीं बार IPL फाइनल में पहुंची चेन्नई सुपरकिंग्स, एक जीत दूर पांचवां खिताब

चेन्नई

महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी करिश्माई कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स को रिकॉर्ड 10वीं बार आईपीएल के फाइनल में पहुंचा दिया। 16वें सीजन में मंगलवार रात क्वालीफायर-1 में गुजरात टाइटंस को हार का मुंह देखना पड़ा। जीत के लिए जरूरी 173 रन के जवाब में डिफेंडिंग चैंपियन गुजरात 157 रन पर सिमट गई। राशिद खान (16 गेंद में 30 रन) एकबार फिर अकेले लड़ते दिखे, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला पाए। वैसे गुजरात के पास फाइनल में पहुंचने का एक मौका और बाकी है। लखनऊ सुपरजायंट्स और मुंबई इंडियंस के बीच होने वाले एलिमिनेटर के विजेता से 26 मई को गुजरात की टक्कर होगी। जीतने वाली टीम फाइनल में सीएसके से भिड़ेगी।

आखिरी ओवर में आया फैसला
20वें ओवर में गुजरात को जीतने के लिए 27 रन चाहिए थे। चेन्नई की जीत यहां से तय हो चुकी थी क्योंकि खतरनाक लग रहे राशिद खान 19वें ओवर में तुषार देशपांडे का शिकार हो गए। गुजरात के लिए इन फॉर्म शुभमन गिल ने 38 गेंद में सर्वाधिक 42 रन बनाए। चेन्नई के लिए दीपक चाहर, महिश तीक्षणा और रविंद्र जडेजा ने 2-2 विकेट लिए।

CSK के लिए गायकवाड़ रहे हीरो
टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स ने ओपनर रुतुराज गायकवाड़ (44 गेंद में 60 रन, साच चौके, एक छक्का) के बूते सात विकेट पर 172 रन बनाए। डेवोन कॉनवे (34 गेंद में 40 रन) के साथ पहले विकेट के लिए दोनों के बीच 64 गेंद में 87 रन की साझेदारी हुई। मिडिल ओवर्स में अजिंक्य रहाणे (10 गेंद में 17), अंबाती रायुडु (नौ गेंद में 17) ने निराश किया। अंत में रविंद्र जडेजा ने 16 गेंद में 22 रन बनाकर फिनिश किया। महेन्द्र सिंह धोनी से छक्के की उम्मीद लगाए प्रशंसकों को निराशा हुई। वह एक रन बनाकर मोहित का दूसरा शिकार बने। गुजरात टाइटंस के लिए मोहम्मद शमी और मोहित शर्मा ने दो-दो जबकि दर्शन नालकंडे, राशिद खान और नूर अहमद ने एक-एक विकेट लिए।

About bheldn

Check Also

मैकगर्क की तूफानी पारी, IPL इतिहास में पहली बार 160 से ज्यादा रन बनाकर हारी LSG

लखनऊ इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में पहली बार लखनऊ सुपरजायंट्स की टीम 160 या …