‘मंदिरों पर हमले मंजूर नहीं’, ऑस्ट्रेलिया में बोले PM मोदी- T20 मोड में आ गए हैं हमारे संबंध

नई दिल्ली

ऑस्ट्रेलिया पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार (24 मई) को ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस दौरान व्यापार, रक्षा, तकनीक समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई। वार्ता के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और एंथनी अल्बनीज ने जॉइंट स्टेटमेंट जारी किया। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सिडनी के एडमिरल्टी हाउस में औपचारिक गार्ड ऑफ ऑनर भी प्रदान किया गया। ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री के साथ वार्ता के बाद पीएम मोदी ने क्या कहा आइए जानते हैं उनके भाषण की मुख्य बातें।

पीएम मोदी ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में मंदिरों पर होने वाले हमलों और अलगाववादी तत्वों की गतिविधियों के संबंध में हमने पहले भी बात की थी और आज भी बात की है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के सौहार्दपूर्ण रिश्तों को कोई भी तत्व अपने विचारों या एक्शन से आघात पहुंचाए ये हमें स्वीकार्य नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑस्ट्रेलिया में कहा कि क्रिकेट की भाषा में कहूं तो हमारे और ऑस्ट्रेलिया के संबंध T- 20 मोड में आ गए हैं। ऑस्ट्रेलिया में भारतीय समुदाय दोनों देशों के बीच जीवित पुल है। आज प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज से वार्ता में हमने अगले दशक में अपनी व्यापक रणनीतिक साझेदारी को नई ऊंचाइयों पर ले जाने की बात की। नए क्षेत्रों में आपसी सहयोग की संभावनाओं पर विस्तार से चर्चा की।

ऑस्ट्रेलिया में पीएम मोदी ने कहा कि भारत ऑस्ट्रेलिया संबंधो का परिप्रेक्ष्य केवल दो देशों तक सीमित नहीं है। यह क्षेत्रीय स्थिरता, शांति और विश्व कल्याण से भी जुड़ा है। क्वाड समिट में प्रधानमंत्री एंथोनी अल्बनीज के साथ हमने इंडो-पैसिफिक पर भी चर्चा की। भारत ऑस्ट्रेलिया सहयोग ग्लोबल साउथ की प्रगति में भी लाभकारी हो सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज खनन और महत्वपूर्ण खनिज के संबंध अपने रणनीतिक सहयोग को आगे बढ़ाने पर सकारात्मक चर्चा हुई। नवीकरणीय ऊर्जा में सहयोग के लिए ठोस क्षेत्र की पहचान की।ग्रीन हाइड्रोजन पर एक टास्क फोर्स के गठन का निर्णय लिया। कल ऑस्ट्रेलियाई CEO’s से विभिन्न क्षेत्रों में निवेश को लेकर मेरी उपयोगी बात हुई।

ऑस्ट्रेलियाई पीएम एंथनी अल्बनीज के साथ संयुक्त प्रेस वार्ता में पीएम मोदी ने कहा, “मैं इस साल क्रिकेट विश्व कप के लिए पीएम एंथनी अल्बनीज और सभी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट प्रशंसकों को भारत आने का निमंत्रण देता हूं। उस समय आपको भारत में भव्य दिवाली भी देखने को मिलेगी।

About bheldn

Check Also

इजरायल और ईरान में भीषण युद्ध का खतरा, भारत ने यूं ही नहीं जारी एडवाइजरी, खतरे में 22 हजार भारतीय

तेलअवीव/तेहरान: ईरान और इजरायल के बीच युद्ध के बादल मंडरा रहे हैं। अमेरिका की खुफिया …