2 महिलाएं, 16 आदमी और… हिंदू से मुस्लिम बनाने का हैरान कर देने वाला खेल

आजमगढ़,

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में पुलिस ने बुधवार देर रात धार्मिक कार्यक्रम में छापा मारा. यहां पर कई आपत्तिजनक सामग्री मिला. साथ ही मौके पर कव्वाल और धर्म परिवर्तन करा रहे रैकेट के सरगना सहित 18 लोग मौजूद थे. इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं. फिलहाल, पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है. इनके खिलाफ कई धाराओं में केस दर्ज कर जेल भेज दिया है.

मामला देवगांव थाना अंतर्गत चिरकिहिट गांव का है. मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि चिरकिहिट गांव में प्रलोभन देकर हिंदू से मुस्लिम में धर्म परिवर्तन कराने की सूचना मिली थी. इसके बाद पुलिस बल मौके पर पहुंचा. वहां देखा कि काफी संख्या में लोग जमा थे.

मुस्लिम धर्म की तारीफ, हिंदू धर्म को पाखंडवाद बताया
सभी लोग मजार पर त्रिशूल, फूल की माला लपेटकर और हरा कपड़ा बांधकर कव्वाली गाते हुए तकरीर पढ़ रहे थे. साथ ही मुस्लिम धर्म की तारीफ की जा रही थी और हिंदू धर्म की मान्यताओं को पाखंडवाद और झूठा बताया जा रहा था. साथ ही हिंदुओं को प्रलोभन देकर मुसलमान बनाने का काम किया जा रहा था.

पुलिस ने घेराबंदी कर धर्म परिवर्तन कराने वाली दो महिलाओं और 16 पुरुषों को मौके से गिरफ्तार किया है. आरोपियो ने बताया कि हम लोगों को हिंदू से मुस्लिम में धर्म परिवर्तन कराने पर रुपये मिलते हैं. आज भी हम लोग धर्म परिवर्तन कराने के लिए इकट्ठा हुए थे.

7 त्रिशूल, ढोल, साउंड मिक्सर, हारमोनियम बरामद
धर्म परिवर्तन के स्थल पर पहुंची पुलिस ने भारी मात्रा में सामान भी जब्त किया है. इसमें 7 त्रिशूल, दो फोटो, दो ढोल, दो साउंड मिक्सर, एक हारमोनियम, भगोना, गैस सिलेंडर, गैस चूल्हा, एक जनरेटर, एक टेंपो, एक बुलेट और एक अर्टिगा कार बरामद की गई है.

साथ ही गिरफ्तार किए गए आरोपियों में अवधेश, सरोज, उषा देवी, पन्नालाल, फरीद मोहम्मद, मोहम्मद शबरोज, रमजान, रशद, शहाबुद्दीन, सिकंदर, हसीना, मोहम्मद जावेद, कुंदन, परवेज, इरफान, साबिर अली, आकाश, सरोज और जावेद अहमद शामिल हैं.

18 लोग धर्म परिवर्तन के उद्देश्य से हुए थे एकत्रित- SP
मामले में एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि बुधवार देर रात मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि धर्म परिवर्तन किया जा रहा है. सादे कपड़ो में पुलिस को भेजकर मामले की तफ्तीश कराई गई. इसके बाद थाने से पुलिस बल भेजकर 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उनसे पूछताछ में स्पष्ट हुआ है कि चिरकिहिट गांव के अवधेश पासी के घर यह लोग धर्म परिवर्तन के उद्देश्य से एकत्रित हुए थे.

इस गिरोह का सरगना मैनपुरी का रहने वाला सिकंदर है. उसको भी गिरफ्तार किया गया है. इसके द्वारा अवधेश पासी के घर पर मजारनुमा स्थल तैयार कर कव्वाली गाते हुए तकरीर की जा रही थी. बीमारी ठीक करने और अन्य प्रलोभन देकर लोगों का धर्म परिवर्तन कराने की योजना थी.

मामले की विवेचना के लिए स्पेशल टीम का गठन
अवधेश ने बताया कि वह चार-पांच साल से बाराबंकी देवा शरीफ जा रहा था. वहां उसकी मुलाकात सिकंदर से हुई. सिकंदर देवा शरीफ में झाड़-फूंक का काम करता था. फिलहाल, जनपद स्तर पर इस पूरे प्रकरण की विवेचना के लिए स्पेशल टीम का गठन किया गया है. साथ ही स्थानीय स्तर पर एलआईयू और अन्य एजेंसियों के द्वारा विस्तृत पूछताछ की जा रही है.

 

About bheldn

Check Also

विजयन के टारगेट करने पर कांग्रेस ने साफ किया CAA पर स्टैंड, चिदंबरम ने बताया सरकार बनने पर क्या करेंगे

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस की अगुवाई वाली I.N.D.I.A अलायंस अगर सत्ता में आया तो पार्टी सीएए को …