2024 से पहले कैसे BJP के लिए बढ़ती जा रही टेंशन, विधायकों की संख्या में भी छूटी पीछे

बीजेपी और कांग्रेस देश की दो सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टियां हैं लेकिन एक विश्लेषण से पता चलता है कि अन्य दलों के पास दोनों बड़े दलों की तुलना में कहीं अधिक विधायक हैं। पिछले कुछ चुनाव को देखें तो पता चलता है कि बीजेपी और कांग्रेस से कहीं अधिक विधायकों की संख्या क्षेत्रीय दलों के पास है। राष्ट्रीय दलों के विधायकों की संख्या को हटाकर देखा जाए तो क्षेत्रीय दलों के विधायकों की संख्या 1600 से अधिक है। बीजेपी, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी सब इस रेस में पीछे हैं। पिछले 5 साल के चुनाव को देखा जाए तो बीजेपी की ताकत राज्यों में घटी है।

किस दल के पास कितने विधायक
पिछले 5 साल के चुनाव नतीजों और विधायकों की संख्या देखी जाए तो बीजेपी के पास विधायकों की कुल संख्या 1 हजार 312 है। वहीं कांग्रेस के पास 770 विधायक हैं। इन दोनों दलों से कहीं अधिक संख्या अन्य क्षेत्रीय दलों की है।

BJP- 1312 MLA
कांग्रेस- 770 MLA
लेफ्ट-116 MLA
बीएसपी-15 MLA
AAP-161 MLA
अन्य- 1679 MLA

50 करोड़ की आबादी पर क्या है राजनीतिक दलों की स्थिति
13 राज्य ऐसे हैं जहां बीजेपी और कांग्रेस के विधायकों की संख्या अन्य दलों के मुकाबले कम है। 13 राज्यों में क्षेत्रीय दलों का ही दबदबा है। यदि आबादी के हिसाब से देखा जाए तो 50 करोड़ की आबादी का प्रतिनिधित्व ये दल करते हैं। जिन राज्यों में क्षेत्रीय दलों की सरकार है उसमें बिहार, बंगाल, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तेलंगाना, झारखंड, मेघालय, नगालैंड, पुडुचेरी, मिजोरम और सिक्किम शामिल है।

3 राज्यों में दो दलों का दबदबा
बीजेपी और कांग्रेस से अलग यदि आम आदमी पार्टी की बात की जाए तो 2 राज्य ऐसे हैं जहां पार्टी के विधायकों की संख्या विरोधी दल के मुकाबले काफी अधिक है। पंजाब और दिल्ली में विपक्ष काफी कमजोर है। पंजाब में AAP के 92 विधायक हैं तो वहीं दिल्ली में उसके विधायकों की संख्या 62 है। साथ ही केरल में लेफ्ट का दबदबा कायम है। यहां एलडीएफ विधायकों की संख्या 97 है।
पंजाब- 92 AAP विधायक
दिल्ली- 62 AAP विधायक
केरल- 97 -LDF विधायक

आबादी के हिसाब से कहां खड़े हैं राजनीतिक दल
विधायकों की संख्या को यदि आबादी के हिसाब से देखा जाए तो बीजेपी 48.8 करोड़ आबादी का प्रतिनिधित्व करती है। वहीं कांग्रेस के 770 विधायक हैं जो 24.4 करोड़ आबादी का प्रतिनिधित्व करते हैं। क्षेत्रीय दलों के पास 1679 विधायक हैं जो 55.4 करोड़ आबादी का प्रतिनिधित्व करते हैं। बीएसपी विधायकों की संख्या 15 है जो 0.6 करोड़, आम आदमी पार्टी के 162 विधायक हैं जो 4.5 करोड़ आबादी का प्रतिनिधित्व करते हैं। बीजेपी सबसे अधिक आबादी वाले राज्य में आगे हैं वहीं कांग्रेस विधायकों की संख्या के हिसाब से मध्य प्रदेश में सबसे अधिक आबादी का प्रतिनिधित्व करती है।

बीजेपी से काफी आगे ये दल
सात राज्य ऐसे हैं जहां बीजेपी विधायकों की संख्या 50 फीसदी या इससे अधिक है। इसके अलावा 4 राज्य ऐसे हैं जहां कांग्रेस विधायकों की संख्या 50 प्रतिशत से अधिक है। वहीं 9 राज्य ऐसे हैं जहां दूसरे दलों की सरकार है और इन राज्यों में विधायकों की संख्या 80 फीसदी से अधिक है। राज्यों के प्रदर्शन के हिसाब से देखा जाए तो यहां क्षेत्रीय दल बीजेपी से काफी मजबूत नजर आते हैं।

About bheldn

Check Also

एलन मस्‍क का बदल चुका है प्‍लान? टेस्‍ला के निकट भविष्‍य में भारत आने की संभावनाएं कम

नई दिल्‍ली भारत में टेस्‍ला की एंट्री पर बड़ा अपडेट है। मुमकिन है कि यह …