अरविंद केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन को बताया ‘हीरो’, अस्पताल में मिलकर लगाया गले

नई दिल्ली

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार को पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से मिलने LNJP अस्पताल पहुंचे। उन्होंने अस्पताल में सत्येंद्र जैन को गले लगाया। केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि आज वो बहादुर आदमी से मिले। उन्होंने जैन को ‘हीरो’बताया। बता दें कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने सत्येंद्र जैन को मेडिकल ग्राउंड पर अंतरिम जमानत दी है। सुप्रीम कोर्ट ने शर्तों के साथ 11 जुलाई तक सत्येंद्र जैन को जमानत देने का निर्देश दिया है।

‘आज बहादुर आदमी से मिला, हीरो’
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से मुलाकात की। उन्होंने भावुक होकर जैन को गले लगा लिया। केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा, ‘बहादुर आदमी से मिला, हीरो’। आम आदमी पार्टी ने भी अपने ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल से केजरीवाल और जैन की तस्वीरें शेयर की। AAP ने लिखा, ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने क्रांतिकारी साथी सत्येंद्र जैन से मिलने अस्पताल पहुंचे। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने गले मिलकर सत्येंद्र जैन से उनका हाल-चाल पूछा और स्वास्थ्य की जानकारी ली।’

सुप्रीम कोर्ट ने दी थी 6 हफ्तों की अंतरिम जमानत
गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री सत्येंद्र जैन को मेडिकल ग्राउंड पर अंतरिम जमानत दी है। सुप्रीम कोर्ट ने शर्तों के साथ 11 जुलाई तक सत्येंद्र जैन को जमानत देने का निर्देश दिया है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जेके महेश्वरी और जस्टिस पीएस नरसिम्हा की बेंच ने उनकी अपनी मर्जी से अस्पताल में इलाज कराने की छूट दी है और कहा है कि अंतरिम जमानत के लिए शर्त ट्रायल कोर्ट तय करेगा। साथ ही, कोर्ट ने कहा है कि वह मेडिकल रेकॉर्ड 10 जुलाई को पेश करें। सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व मंत्री से कहा है कि वह अंतरिम जमानत अवधि के दौरान वह मीडिया से बात नहीं करेंगे और वह किसी भी गवाह को प्रभावित करने की कोशिश नहीं करेंगे।

जेल के बाथरूम में गिरने से लगी गंभीर चोटें
मनी लॉन्ड्रिंग केस में सत्येंद्र जैन तिहाड़ जेल में थे। कुछ दिन पहले वे तिहाड़ जेल के बाथरूम में गिर गए। गिरने से शरीर के पिछले हिस्से में आई चोट की वजह से उन्हें दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। बता दें कि तिहाड़ जेल में बंद जैन का जहां वजन काफी कम हो गया है। कुछ स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों की वजह से दो दिन पहले ही उन्हें एम्स में ले जाया गया था। जेल के प्रवक्ता ने इस मामले की पुष्टि करते हुए बताया की सत्येंद्र जैन जेल नंबर-7 के बाथरूम में चक्कर आने से गिर गए। तुरंत जेल के डॉक्टरों ने उन्हें उपचार दिया और उनकी जांच की। फिर उन्हें हरी नगर के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में रेफर कर दिया गया। वह शरीर के कई हिस्सों में चोट लगने से दर्द बता रहे थे। उन्होंने बताया कि बैक में, बाएं पैर पर और कंधे पर चोट लगी है।

About bheldn

Check Also

प्राइवेट प्रॉपर्टी पर हो सकता है किसी समुदाय या संगठन का हक, सुप्रीम कोर्ट के 9 जजों की बेंच ने क्या कहा?

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा कि संविधान का उद्देश्य सामाजिक बदलाव की भावना …