जयपुर में फिर लगे ‘हिंदुओं का पलायन जारी’ वाले पोस्टर, समुदाय विशेष पर आरोप

जयपुर,

राजस्थान के जयपुर में एक बार फिर ‘हिंदुओं के पलायन जारी’ वाले पोस्टर नजर आए हैं. जानकारी के मुताबिक, परकोटा क्षेत्र के ब्रह्मपुरी कस्बे में ‘हिंदुओं का पलायन जारी’ के पेंपलेट लगे दिखे तो स्थानीय लोगों ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई. उनका आरोप है कि समुदाय विशेष की पार्षद, उनके पति और नगर निगम अधिकारियों ने ये पोस्टर लगवाए हैं.

इस तरह के पेंपलेट लगने के बाद प्रशासन में खलबली मच गई, जिसके बाद पुलिस ने पोस्टर चस्पा करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. बता दें, पहली बार ब्रह्मपुरी थाना पुलिस ने पलायन के पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ आईपीसी की धारा 501 (1) में एफआईआर दर्ज की है.

दरअसल, जयपुर के ब्रह्मपुरी इलाके में जो पेंपलेट लगाए गए है उन पर लिखा है “हिंदुओं का पलायन जारी”. स्थानीय लोगों का आरोप है कि नगर निगम के अधिकारी, कर्मचारी, पार्षद मौजम बानो और उनके पति अख्तर हुसैन ने ये पोस्टर लगवाए हैं.

पुलिस ने जांच शुरू की तो पाया कि दो महीने पहले इस इलाके की सड़क को भी जानबूझकर तोड़ा गया था, जिससे सीवर लाईन भी टूट गई. लोगों को आश्वासन दिया गया था कि इसे दो दिन में ठीक करवा दिया जाएगा. लेकिन दो माह बीत जाने के बाद भी अब तक किसी ने भी इसे ठीक नहीं करवाया है.

इस कारण लोग गंदगी में रहने को मजबूर हैं. लोगों ने बताया कि उन्हें जानबूझकर परेशान किया जा रहा है ताकि वे इस इलाके को छोड़कर चले जाएं. परेशान होकर पिछले 4 दिनों से स्थानीय लोग धरना भी दे रहे हैं कि उन्हें परेशान न किया जाए. लेकिन रविवार को कुछ असामाजिक तत्वों ने धरना देने वालों पर भी पथराव दिया.

बता दें कि बीते 20 मई को ही जयपुर के किशनपोल क्षेत्र के वार्ड-69 में भी इसी तरह के पलायन के पोस्टर लगे थे, जिसमें लोगों ने कांग्रेस पार्षद फरीद कुरैशी को जिम्मेदार ठहराया था. पुलिस ने उस वक्त भी रिपोर्ट दर्ज की थी. लेकिन अभी तक उस पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

 

About bheldn

Check Also

बॉर्डर बंद, सड़कों पर ट्रैक्टर… भारत ही नहीं यूरोप में भी किसान कर रहे प्रदर्शन, पोलैंड-ग्रीस के किसानों की ये है डिमांड

पेरिस भारत में किसान न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) समेत अन्य मांगों के लिए एक बार …