पहलवानों की तस्वीरें देख ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट की नींद हराम हो गई, कहा- अब समय आ गया है…

दिल्ली

दिल्ली पुलिस ने रविवार 28 मई 2023 को जंतर मंतर पर पहलवानों के विरोध प्रदर्शन का बलपूर्वक अंत किया। विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पूनिया को सुरक्षा घेरा तोड़कर महिला ‘महापंचायत’ के लिए नए संसद भवन की ओर बढ़ने की कोशिश कर रहे थे।

दिल्ली पुलिस ने कानून-व्यवस्था उल्लंघन के कारण उन्हें हिरासत में ले लिया था। पहलवानों का हिरासत में लेने की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए, जिन पर बहुत से लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दीं। ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा, भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री, ओलंपिक पदक विजेता विजेंदर सिंह ने भी पहलवानों के साथ इस तरह के बर्ताव को उचित नहीं ठहराया।

इस सूची में ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा का भी नाम जुड़ गया। उन्होंने बताया कि भारतीय पहलवानों की ऐसी तस्वीरें देखने के बाद उनकी नींद ही उड़ गई। अभिनव बिंद्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मेरे साथी भारतीय पहलवानों के विरोध करने की भयावह तस्वीरें देखने के बाद पिछली रात मेरी नींद हराम हो गई।’

अभिनव बिंद्रा ने यह भी लिखा, ‘अब समय आ गया है कि हम सभी खेल संगठनों में स्वतंत्र सुरक्षा उपायों की स्थापना करें। हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि यदि ऐसी स्थितियां उत्पन्न होती हैं, तो उनसे अत्यंत संवेदनशीलता और सम्मान के साथ निपटा जाए। हर एथलीट एक सुरक्षित और सशक्त वातावरण का हकदार है।’

इस बीच, पुलिस हिरासत से 28 मई की देर रात रिहा हुए पहलवान अब अपने अगले कदम पर विचार कर रहे हैं। उन्हें खेल जगत से समर्थन मिलना जारी है। राजनीतिक और खेल हस्तियों ने शीर्ष पहलवानों के खिलाफ रविवार को हुई पुलिस कार्रवाई की निंदा की है।

बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग कर रहे पहलवानों में से एक ने कहा, ‘हम आपको जल्द ही बताएंगे कि हमारा अगला कदम क्या होगा। कल जो हुआ हम अब भी उससे उबरने की कोशिश कर रहे हैं। मुझे रात 11 बजे रिहा किया गया और बजरंग को आधी रात के आसपास छोड़ा गया। हम सब अब तक नहीं मिले हैं। हम जल्द ही इस पर चर्चा करेंगे।’

 

About bheldn

Check Also

6 गेंद 3 रन 3 विकेट! पंजा खोलकर शर्मा जी ने मचाई तबाही, घुटने पर आ गया मुंबई इंडियंस

जयपुर: मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के स्टार तेज गेंदबाज संदीप शर्मा …