पहलवानों को नहीं मिलेगी जंतर-मंतर पर धरने की इजाजत, साक्षी मलिक बोलीं- भगवान ऐसे लोगों को कैसे बनाता है…

नई दिल्ली

जंतर-मंतर पर पहलवानों का प्रदर्शन चल रहा था। लेकिन रविवार को पहलवानों ने नए संसद भवन के घेराव का प्रयास किया और उन्हें हिरासत में ले लिए गया। इसके बाद पुलिस ने उनके टेंट और सामानों को ट्रकों में भरकर भिजवा दिया। दिल्ली पुलिस ने पूरे धरना स्थल को खाली करवा दिया है। लेकिन पहलवानों का कहना है कि वे फिर से धरना शुरू करेंगे। वहीं पहलवानों के धरने पर पुलिस ने कहा कि अब उन्हें जंतर मंतर पर धरने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

वहीं सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हुई, जिसमे विनेश फोगाट और संगीता फोगाट को हिरासत के दौरान हंसते हुए सेल्फी लेते हुए दिखाया गया था। सोशल मीडिया पर यह फोटो खूब वायरल हुई लेकिन बाद में पता चला कि इस फोटो से छेड़छाड़ की गई है। दरअसल संगीता और विनेश हंस नहीं रही थीं लेकिन AI का उपयोग कर उनकी फोटो के साथ छेड़छाड़ की गई।

वहीं अब इस मुद्दे पर पहलवान साक्षी मलिक का बड़ा बयान सामने आया है। साक्षी मलिक ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा, “जो ऐसा कर रहे हैं उन्हें तनिक भी शर्म नहीं है। भगवान ऐसे लोगों को कैसे बनाता है? परेशान लड़कियों के चेहरों पर मुस्कान बिखेरती है। मुझे नहीं लगता कि उनके पास भी दिल होता है। वे हमें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।”

पहलवानों के आगे के धरने पर दिल्ली पुलिस ने बड़ा बयान दिया है। दिल्ली पुलिस ने कहा है कि पहलवानों को जंतर-मंतर पर प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिलेगी। पुलिस ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने सभी अनुरोध के बावजूद कानून का उल्लंघन किया, इसलिए धरने को समाप्त करने का निर्णय लिया गया है। पुलिस ने कहा कि पहलवान अगर किसी अन्य जगह पर प्रदर्शन के लिए अनुमति मांगते हैं, तो उन्हें अनुमति दी जाएगी।

दिल्ली पुलिस के पीआरओ ने कहा कि पहलवान हमसे जो मांगते थे, हमने उन्हें दिया। 38 दिन से पहलवान धरने पर बैठे थे, हमने शुरू से उनके साथ सहयोग किया। हमने पहले भी उन्हें इंडिया गेट जैसी संवेदनशील जगह पर कैंडल मार्च की इजाजत दी थी।

 

About bheldn

Check Also

केजरीवाल अपने डॉक्टर से बात करना चाहते हैं… क्या प्राइवेट डॉक्टर के तिहाड़ में एंट्री पर है रोक?

नई दिल्ली: देश में एक तरफ जहां लोकसभा चुनाव को लेकर हलचल तेज हैं। वहीं …