समुदाय विशेष के 42 दुकानदारों ने रातो-रात छोड़ा शहर, हिंदू लड़की को भगाने के मामले से मचा बवाल

उत्तरकाशी,

नाबालिग छात्रा को भगाकर ले जाने की साजिश रचने के मामले से उत्तरकाशी जनपद में बवाल मच गया है. जिले के पुरोला बाजार में नाराज स्थानीय दुकानदारों ने समुदाय विशेष के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज कर दिया है. इस आक्रोश के चलते 42 बाहरी दुकानदार रातो-रात पुरोला शहर को छोड़कर फरार हो गए.

दरअसल, नगर पंचायत पुरोला में बीते दिनों समुदाय विशेष के दो युवक एक स्थानीय दुकानदार की नाबालिग बेटी को भगाने की साजिश रचते पकड़े गए थे. हालांकि, कुछ स्थानीय युवकों ने नाबालिग को भागने से बचा लिया था. लेकिन इसके बाद उत्तरकाशी समेत आसपास के लोगों का आक्रोश फूट पड़ा. बाहरी विशेष समुदाय के लोगों के खिलाफ पुरोला में प्रदर्शन शुरू हो गया.

विरोध में दुकानदारों ने अपनी दुकानें रखीं और होटल भी बंद कर दिए. महिलाओं और युवा समेत कई संगठनों ने पुलिस प्रशासन को जगाने के लिए जमकर नारेबाजी की.

व्यावसायिक संस्थान, दुकानें और होटल चलाने वाले स्थानीय लोगों के आक्रोश को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया. प्रदर्शनकारी अपने विरोध प्रदर्शन को जुलूस की शक्ल में नगर के सड़क चौराहों लेकर प्रशासन के पास पहुंचे. जहां उन्होंने एसडीएम देवानंद शर्मा के माध्यम से राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा.

ज्ञापन में विशेष समुदाय के अपराधियों की पुरोला नगर स्थित दुकानों को तत्काल हटाने की मांग की गई. इस दौरान आक्रोशित भीड़ ने समुदाय विशेष के लोगों की दुकानों में लगे बोर्ड भी हटा दिए. प्रदर्शनकारियों ने अपराधी किस्म के लोगों को बाजार से दुकानें खाली करने की चेतावनी दी है. वहीं, आक्रोश के चलते बाहरी समुदाय विशेष के 42 दुकानदार रातो रात पुरोला को छोड़कर भाग गए हैं.

 

About bheldn

Check Also

बीजेपी के ‘संकटमोचक’ बने रामलला! कैसे कमजोर सपा विधायकों को साधने में की मदद

नई दिल्ली उत्तर प्रदेश में राज्‍यसभा की 10 सीटों के लिये मंगलवार को संपन्न हुए …