आगरा में पार्षद ने जान पर खेलकर बुझाई आग, कंधे पर रखकर घर में से बाहर फेंके गैस सिलेंडर

आगरा

उत्तर प्रदेश के थाना न्यू आगरा क्षेत्र की कॉलोनी में रहने वाले एक कारोबारी के मकान में सोमवार रात आग गई। आग लगने से परिवार के लोगों में अफरा-तफरी मच गई। वहीं मौके से गुजर रहे स्थानीय पार्षद ने जब यह नजारा देखा तो उन्होंने जान जोखिम में डालकर आग बुझाई। यहीं नहीं मकान में रखे गैस सिलेंडरों को कंधे पर रखकर बाहर फेंका। घर में मिले मिले पानी, दूध आदि सामान से आग पर काबू पाया। पार्षद के इस दिलेरी भरे कार्य की हर कोई ने सराहना की।

घटना न्यू आगरा क्षेत्र की कालोनी की है। चुंगी पार्क के पास कोठी संख्या बी 21 में चंद्र प्रकाश पोतनानी का चार मंजिला मकान है। रात करीब 10.30 बजे उनके तीसरे मंजिल फ्लोर पर लगे एसी में आग लग गई। मकान में धुंआ भर गया। परिवार के लोग घर से बाहर निकलकर दौड़ लगा रहे थे। तभी वहां से गुजर रहे स्थानीय पार्षद मनोज कुमार ने मकान से धुंआ उठता देखा तो वह दौड़ पड़े। मकान के तीसरे फ्लोर पर पहुंच गए। सबसे पहले बिजली की लाइन बंद की और फिर मकान में रखे पीने के पानी, फ्रिज में रखे दूध, घड़ों के पानी से आग बुझाई। आग बुझाने के दौरान मकान में भरे धूंऐं से उनकी तबियत भी खराब हो गई, लेकिन इसकी परवाह किए बगैर वे लगातार आग बुझाने का प्रयास करते रहे।

गैस सिलेंडरों को कंधे पर उठाकर बाहर फेंका
मकन मालिक चंद्रप्रकाश पोतनानी ने बताया कि उनके घर में कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा है। तीसरे मंजिल पर वह खाना खाने जाते हैं। वहां कोई नहीं रहता है। उसमें एयरकंडीशनर भी लगा हुआ है। रात करीब 10.30 बजे एसी के प्लग में आग लग गई। घर में धुंआ भर गया। पार्षद मनोज कुमार, सोनू परिहार आदि लोगों ने आग बुझाई। घर में तीन गैस के सिलेंडर रखे थे। आग विकराल हो चुकी थी। अगर मौके पर पार्षद सक्रियता नहीं दिखाते तो बड़ा हादसा हो सकता था। फायर बिग्रेड से पहुंचने से पहले ही उन्होंने आग बुझा दी।

केमिकल गोदाम में लगी आग
थाना ट्रांस यमुना कालोनी क्षेत्र स्थित एक केमिकल फैक्ट्री में सोमवार रात भीषण आग लग गई। आग बुझाने में फायर ब्रिगेड की कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। कई घंटों में आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने से फैक्ट्री संचालक का लाखों का नुकसान हुआ है। केमिकल फैक्ट्री गढ़ी भदौरिया के रहने वाले ललित पुत्र बी डी शर्मा की थी। बताया जा रहा है कि रिहायशी एरिया में बिना मानकों के फैक्ट्री संचलित की जा रही थी।

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …