यूक्रेनी सेना के खुफिया हेडक्वार्टर पर रूस की धुआंधार बमबारी, पुतिन ने लिया वो बदला

मॉस्को

रूस ने यूक्रेन के खुफिया मंत्रालय पर भीषण बमबारी कर मॉस्को पर हुए हमले का बदला ले लिया है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने खुद बताया है कि रूस ने कीव में यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय के मुख्य खुफिया निदेशालय के मुख्यालय पर हमला किया है। हमले के लिए रूस ने सटीक मार करने वाली मिसाइलों का इस्तेमाल किया। रूस का आरोप है कि यूक्रेनी खुफिया निदेशालय के अधिकारियों ने दुनियाभर में रूसियों को मारने की धमकियां दी थी। उधर, मॉस्को पर यूक्रेन के ड्रोन हमलों ने रूस को और ज्यादा भड़का दिया था। बताया जा रहा है कि इस हमले के पीछे यूक्रेनी खुफिया निदेशालय की प्लानिंग थी।

रूस ने मिसाइल से किया हमला
मंगलवार को एक आर्थिक प्रदर्शनी में पुतिन ने कहा कि विशेष सैन्य अभियान शुरू होने के बाद रूसी सेना यूक्रेन पर हमला कर रही है। इसके लिए उच्च परिशुद्धता वाले हथियारों का उपयोग किया जा रहा है। सैन्य बुनियादी ढांचे, हथियार डिपो और अन्य लक्ष्यों को निशाना बना रहे हैं, जिनका इस्तेमाल सैन्य कार्रवाई के लिए किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमने पहले ही जिक्र किया है कि हम निर्णय लेने वाले केंद्रों और मुख्यालयों पर हमला कर सकते हैं। जाहिर है, यूक्रेन के मुख्यालय का सैन्य खुफिया निदेशालय भी ऐसा ही एक लक्ष्य है। और जवाब में, जैसा कि आप अच्छी तरह जानते हैं, कीव शासन ने एक अलग रास्ता चुना है।

मॉस्को पर ड्रोन हमले के बाद पहली बार बोले पुतिन
रूसी राजधानी पर मंगलवार सुबह ड्रोन हमले के प्रयास का जिक्र करते हुए पुतिन ने कहा, “यह रूस और उसके नागरिकों को डराने-धमकाने का प्रयास है, रिहायशी इमारतों को निशाना बनाने की कोशिश है। यह आतंकवादी गतिविधि का एक स्पष्ट संकेत है। पुतिन ने मॉस्को के एयर डिफेंस की स्थिति पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने मंगलवार की सुबह के हमले को रोकने के लिए संतोषजनक तरीके से काम किया, हालांकि अभी भी कुछ प्रगति की जानी बाकी है। “हमने सीरिया में खमीमिम में इसी तरह की समस्याओं का सामना किया है, हालांकि निश्चित रूप से सीरिया और मास्को में हमारे एयरबेस के क्षेत्रों का आकार तुलनीय नहीं है, क्योंकि मास्को एक विशाल शहर है … लेकिन यह स्पष्ट है कि इसे बनाने के लिए क्या किया जाना चाहिए हमारे राजधानी शहर के चारों ओर वायु रक्षा बेहतर है, और हम ऐसा करेंगे।”

पुतिन ने यूक्रेनी हमले पर जताई चिंता
पुतिन ने कहा कि वह यूक्रेन के रूस पर हमले के प्रयास से चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि हम देखेंगे कि अब इसमें क्या किया जा सकता है। उन्होंने आशा जताई कि अब आम यूक्रेनियन यह पहचानेंगे कि उनकी सरकार किस ओर ढकेल रही है। न केवल मास्को पर ड्रोन हमले के माध्यम से बल्कि जापोरोजे में परमाणु संयंत्र ो निशाना बनाकर। यून्होंने कहा कि 1991 में यूएसएसआर के पतन के बाद यूक्रेन पश्चिम समर्थतिक रूस विरोधी ताकतों के प्रभाव में आ गया।

About bheldn

Check Also

मालदीव किसी का पक्ष नहीं ले रहा… ग्लोबल टाइम्स ने मुइज्जू का जिक्र कर भारत पर साधा निशाना

बीजिंग मालदीव के संसदीय चुनाव में भारत विरोधी मोहम्मद मुइज्जू की पार्टी को मिली जीत …