मर्डर से 24 घंटे पहले साहिल को साक्षी के दोस्त भावना और झबरू ने दी थी धमकी… सामने आई एक और थ्योरी

नई दिल्ली,

दिल्ली के शाहबाद डेरी इलाके में हुए साक्षी हत्याकांड में एक नई जानकारी सामने आई है. गिरफ्तार आरोपी साहिल खान पुलिस के सामने हत्याकांड को लेकर अलग-अलग थ्योरी बता रहा है. वह लगातार अपने बयान बदल रहा है. सूत्रों के मुताबिक उसने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वारदात के एक दिन पहले साक्षी, उसकी दोस्त भावना और झबरू नाम के एक लड़के ने मिलकर आरोपी साहिल को धमकाया था. आरोपी ने बताया है कि मृतिका की हाल में ही झबरु नाम के एक लड़के से दोस्ती हुई थी. झबरु इलाके का एक दबंग लड़का है. वारदात के एक दिन पहले साक्षी की दोस्त भावना, खुद साक्षी और झबरू उससे मिले थे और तीनों की उससे कहासुनी भी हो गई थी. इस दौरान झबरू ने साहिल को धमकाया भी था कि वह साक्षी से दूर रहे. इस बात को लेकर साहिल बहुत गुस्से में आ गया था, इसलिए उसने साक्षी की हत्या का मन बना लिया. हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उसके बयानों की तस्दीक की जा रही है कि आरोपी सही बोल रहा है या झूठ. वहीं साहिल खान को मंगलवार के दिन कोर्ट में पेश किया गया, जहां से आरोपी को 2 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया.

15 दिन पहले क्यों खरीदा चाकू?
आरोपी का साहिल का दावा है कि एक वारदात से एक दिन पहले उसका साक्षी और उसके दोस्तों से झगड़ा हुआ था, जिसके बाद उसने इस वारदात को अंजाम दे दिया लेकिन सूत्रों के मुताबिक पुलिस को पड़ताल में पता चला है कि उसे हत्या के लिए जिस चाकू का इस्तेमाल किया, वह उसने 15 दिन पहले ही ले लिया था. यह भी पता चला कि वारदात के बाद आरोपी ने चाकू को रिठाला इलाके में छिपा दिया था. फिलहाल हत्या में प्रयुक्त हथियार को अभी बरामद नहीं हुआ है. आरोपी साहिल ने किस एरिया से चाकू खरीदा था? उसकी लोकेशन नहीं बताई है.

साक्षी के शरीर पर चोट के 34 निशान
साहिल ने साक्षी पर चाकू और पत्थर से ताबड़तोड़ हमले किए थे. लड़की की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला है कि साहिल ने उसे चाकू से 16 बार जख्मी किया. आरोपी ने उसकी गर्दन पर 6 बार और पेट पर 10 बार वार किया. इसके बाद उसने पत्थर से साक्षी का सिर कुचल दिया था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साक्षी के शरीर और सिर पर चोट के 34 निशान मिले हैं.

ऐसे खड़े होकर न देखें: स्पेशल CP
साहिल से सरेआम साक्षी पर हमला किया था लेकिन किसी ने उसे रोकने की कोशिश तक नहीं की. दिल्ली पुलिस के स्पेशल पुलिस कमिश्नर ने कहा, यह तो असंवेदनशीलता की पराकाष्ठा है. आरोपी सरेराह चाकू से लड़की को गोद रहा था और लोग तमाशबीन बनकर खड़े रहे. अगर हमारे सामने कोई अपराध होता है तो हमें हस्तक्षेप करना चाहिए. अगर लोग कोशिश करते तो पीड़िता को बचाया जा सकता था. उन्होंने लोगों से अपील की कि अगर इस तरह की वारदात होती है तो मदद के लिए सामने आएं. शोर मचाएं. ऐसे खड़े होकर न देखें. संबंधों की दुनिया को ही समाज कहते हैं.

जून 2021 से रिलेशन में थे साक्षी और साहिल
साहिल और साक्षी जून 2021 से रिलेशन में थे. साहिल से पहले साक्षी की दोस्ती प्रवीण नाम के युवक से थे. उसका एक साल पहले प्रवीण नाम के लड़के सा ब्रेकअप हो गया था. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में पता चला है कि साहिल को शक था कि साक्षी प्रवीण के साथ दोबारा से रिलेशन में है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि उसने प्रवीण के नाम का टैटू भी बनवा लिया था. इतना ही नहीं साहिल ने कुछ दिन पहले साक्षी को धमकी दी थी कि वह उसे जान से मार देगा. साहिल को शक था कि साक्षी अपने पूर्व बॉयफ्रेंड प्रवीण से बात कर रही है.

साक्षी ने कुछ दिन से साहिल से बात करना बंद कर दिया था. इसे लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ था. साक्षी साहिल से ब्रेकअप करना चाहती थी, जबकि साहिल लगातार उससे मिलने की कोशिश कर रहा था. शनिवार को भी दोनों के बीच झगड़ा हुआ. इसके बाद साहिल ने साक्षी की हत्या करने का फैसला किया.

 

About bheldn

Check Also

प्राइवेट प्रॉपर्टी पर हो सकता है किसी समुदाय या संगठन का हक, सुप्रीम कोर्ट के 9 जजों की बेंच ने क्या कहा?

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा कि संविधान का उद्देश्य सामाजिक बदलाव की भावना …