पीएम मोदी के राजस्थान से जाते ही सीएम गहलोत ने खोल दिया पत्ता, बिजली बिल पर राहत का ऐलान

जयपुर

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आगामी विधानसभा चुनावों से पहले जनता के हित में बड़ा फैसला लिया है. उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी कि राज्य में 100 यूनिट प्रतिमाह तक बिजली उपभोग वालों का बिजली बिल शून्य होगा. उन्हें पूर्ववत कोई बिल नहीं देना होगा. CM गहलोत ने ट्वीट किया, महंगाई राहत शिविरों के अवलोकन व जनता से बात करने पर फीडबैक आया कि बिजली बिलों में मिलने वाली स्लैबवार छूट में थोड़ा बदलाव किया जाए. यानी जनता के फीडबैक के बाद बिजली बिल को माफ करने का ऐलान किया गया.

100 यूनिट तक बिजली फ्री
गहलोत के ट्वीट के मुताबिक मई महीने में बिजली बिलों में आए फ्यूल सरचार्ज को लेकर भी जनता से फीडबैक मिला जिसके आधार पर बड़ा फैसला किया है. ट्वीट में आगे कहा गया है कि 100 यूनिट प्रतिमाह तक बिजली इस्तेमाल करने वालों का बिल शून्य होगा. इसके अलावा किसी को एडवांस बिल भी नहीं भरना होगा.

पहले 100 यूनिट तक नहीं देना होगा बिल, फिर…
इसके अलावा राजस्थान की फ्री बिजली स्कीम में एक नियम यह भी है कि 100 यूनिट प्रतिमाह से ज्यादा इस्तेमाल करने वाले परिवारों को भी पहले 100 यूनिट बिजली फ्री दी जाएगी यानी कितना भी बिल क्यों ना आए, पहले 100 यूनिट का कोई भी बिल नहीं देना होगा.

इनका भुगतान राज्य सरकार करेगी
सीएम गहलोत ने बताया कि उन्होंने मध्यम वर्ग के लोगों को ध्यान में रखते हुए 200 यूनिट प्रतिमाह तक बिजली उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं के लिए भी योजना बनाई है. इसके मुताबिक पहले 100 यूनिट बिजली फ्री रहेगी. इसके साथ 200 यूनिट तक के स्थायी शुल्क, फ्यूल सरचार्ज और तमाम अन्य बिल माफ होंगे और इनका भुगतान राज्य सरकार करेगी.

चुनावों से पहले बड़ा ऐलान
बता दें कि राज्य में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में फ्री बिजली की यह घोषणा गहलोत सरकार का बड़ा दांव मानी जा रही है.

About bheldn

Check Also

जाति जनगणना को कोई ताकत नहीं रोक सकती… इशारों-इशारों में राहुल का पीएम मोदी पर निशाना

नई दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और …