बड़ी खुशखबरी! बिहार में सरकार कराएगी 10वीं टॉपरों को मेडिकल-इंजीनियरिंग की तैयारी, रहना-खाना भी मुफ्त

पटना

BSEB टॉपरों के लिए खुशखबरी है। बिहार सरकार के शिक्षा विभाग ने मैट्रिक टॉपर छात्र-छात्राओं को लेकर बड़ा फैसला लिया है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि सीएम नीतीश कुमार के निर्देशानुसार इस वर्ष के मैट्रिक में टॉपर हुए छात्र-छात्राओं को इंजीनियरिंग और मेडिकल की मुफ्त शिक्षा दी जाएगी। आगे भी ये व्यवस्था जारी रहेगी। आनंद किशोर ने बताया कि टॉपर्स के लिए इस वर्ष से मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी करने वाले बच्चों के लिए नि:शुल्क हॉस्टल दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बांकीपुर गर्ल्स स्कूल में टॉपर छात्राओं के रहने और पटना कॉलेजिएट स्कूल में टॉपर छात्रों के रहने की व्यवस्था की जाएगी।

रहना और खाना-पीना फ्री
बुधवार को पटना में पत्रकारों से बात करते हुए आनंद किशोर ने बताया कि सीएम नीतीश कुमार ने मार्च महीने में ही यह निर्णय लिया था। आनंद किशोर के मुताबिक, सीएम ने कहा था कि जो छात्र-छात्राएं मेधावी हैं, उनकी बेहतर शिक्षा के लिए मेडिकल और इंजीनियरिंग की पढ़ाई फ्री में होनी चाहिए। सीएम नीतीश कुमारे के निर्देशानुसार, हम लोगों ने तैयारी की और इस साल से शुरुआत करने का निर्णय लिया। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि पांच जून से आवेदन आवंटित किए जाएंगे। जुलाई महीने से पढ़ाई की शुरुआत होगी। उन्होंने कहा कि प्राप्त आवेदनों के आधार पर छात्र छात्राओं का चयन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि चयनित छात्र-छात्राओं के लिए नि:शुल्क कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी।

सारा खर्च उठाएगी बिहार सरकार
BSEB अध्यक्ष ने बताया कि इस योजना के तहत आवास की व्यवस्था, किताब और कोचिंग के साथ ही रहने और खाने-पीने की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि यह सारी व्यवस्था बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के टॉपर छात्र-छात्राओं के लिए है। आनंद किशोर ने बताया कि छात्र-छात्राओं को पढ़ने के लिए कोई भी स्टडी मैटेरियल नहीं लेना होगा। सारी व्यवस्था बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से की जाएगी। उन्होंने कहा कि हॉस्टल में कमरे के अलावा एक अतिरिक्त स्टडी रूम की भी व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि सारा खर्च बिहार सरकार उठाएगी।

शिक्षकों का भी होगा चयन
आनंद किशोर ने बताया कि मेडिकल आर इंजीनियरिंग पढ़ाने वाले अनुभवी शिक्षकों का चयन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि वैसे शिक्षक जो पूर्व में मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी करवा रहे हैं, वैसे ही शिक्षकों का चयन किया जाएगा। इसके लिए विज्ञापन निकाला जाएगा, उसके बाद योग्यता के आधार पर चयन किया जाएगा।

About bheldn

Check Also

विजयन के टारगेट करने पर कांग्रेस ने साफ किया CAA पर स्टैंड, चिदंबरम ने बताया सरकार बनने पर क्या करेंगे

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस की अगुवाई वाली I.N.D.I.A अलायंस अगर सत्ता में आया तो पार्टी सीएए को …