मुस्लिमों के साथ भारत में क्या हो रहा है? अमेरिका गए राहुल ने यूपी के उदाहरण से कांग्रेस को ही फंसा दिया!

नई दिल्ली

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत में मुस्लिमों की स्थिति को लेकर अमेरिका में बयान दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि अभी भारत में मुसलमानों की जो स्थिति हैं, वह ठीक वैसे ही है जैसे 80 के दशक में यूपी में दलितों की थी। ‘बे एरिया मुस्लिम कम्युनिटी’ के एक सवाल के जवाब में कांग्रेस के राहुल गांधी ने कहा कि जिस तरह आप (मुसलमानों) पर हमला हो रहा है, मैं गारंटी दे सकता हूं कि सिख, ईसाई, दलित, आदिवासी भी ऐसा ही महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज मुस्लिमों के साथ जो हो रहा है वह वैसा ही है जैसा यूपी में 1980 के दशक में दलितों के साथ हुआ। खास बात है कि राहुल जिस 80 के दशक का जिक्र कर रहे हैं उस दौरान यूपी में लगभग 8 साल कांग्रेस की ही सरकार थी। ऐसे में राहुल ने यूपी का उदाहरण देकर कांग्रेस को ही फंसा दिया।

मुस्लिमों ही नहीं सभी अल्पसंख्यकों के साथ ऐसा
राहुल गांधी से सवाल किया गया कि आज मुस्लिमों की जो स्थिति है, उसे पहले की तरह करने या सामान्य स्थिति लाने पर आप क्या संदेश देना चाहेंगे। इस पर राहुल ने कहा कि इस स्थिति को बारे में बोलने के लिए एक लाइन है-नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान। कांग्रेस नेता ने कहा कि आज मुसलमानों को सबसे अधिक महसूस हो रहा है क्योंकि यह उनके साथ सीधे-सीधे हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह अधिकतर अल्पसंख्यकों के साथ हो रहा है। उन्होंने कहा कि मैं गारंटी दे सकता हूं कि दलितों को भी ऐसा ही महसूस हो रहा होगा।

80 के दशक में यूपी में यही हाल था
राहुल गांधी ने कहा कि देश में समय-समय पर ऐसा होता रहा है। आज जो मुस्लिमों के साथ हो रहा है। ऐसा 80 के दशक में दलित समुदाय के साथ हुआ था। यदि आप 80 के दशक में यूपी में देखें तो दलितों की वहीं स्थिति थी जो आज मुसलमानों की है। तो समय-समय पर देश में इस तरह की चीजें होती रही हैं। हमारे सामने इस तरह की चुनौतियां आती रहती हैं और हमें इस तरह की चुनौतियों से लड़ना होगा।

नफरत को प्यार से खत्म कर सकते हैं
राहुल गांधी ने कहा कि वास्तव में आज जो भी भारत में गरीब तबका है, जब देश में चुनिंदा अमीर लोगों को देखता है तो उसे भी बिल्कुल वैसा ही महसूस होता है जैसा आपको होता है। वह भी सोचता है कि आखिर ये क्या हो रहा है। कैसे 4-5 लोगों को पास लाखों-करोड़ों रुपये की संपत्ति है और मेरे पास खाने को कुछ भी नहीं है। राहुल ने कहा कि इस चीज को घृणा से नहीं खत्म कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस घृणा को प्यार और मोहब्बत से ही खत्म कर सकते हैं। राहुल गांधी ने कहा कि देश का आम आदमी किसी से नफरत नहीं करता। किसी को मारने के बारे में नहीं सोचता है। उन्होंने कहा कि ये चंद लोग हैं जिनका सिस्टम पर कंट्रोल है। उनका मीडिया पर कंट्रोल है। उन लोगों की पीछे पैसे वालों लोगों का पूरा सपोर्ट है।

About bheldn

Check Also

क्या इंसानों में फैल रही जोंबी डियर बीमारी? अमेरिका में दो मौतों से जुड़ा कनेक्शन, बढ़ी टेंशन

वॉशििंगटन अमेरिका में जोंबी डियर बीमारी का खौफ पसरा हुआ है। इस बीमारी से अब …