MP : कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर क्यों बढ़ा विरोध? राहुल गांधी का दावा 150 सीटों पर मिलेगी जीत

भोपाल

मध्य प्रदेश में आगामी समय होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का चेहरा कौन होगा और मुख्यमंत्री कौन बनेगा। इस मसले पर वरिष्ठ नेता राहुल गांधी की राय स्पष्ट तौर पर सामने नहीं के बाद से राज्य में नई बहस शुरू हो गई है। नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह ने तो यहां तक कह दिया है कि उनके समर्थक उनका भी नाम ले रहे हैं। कांग्रेस ने बीते कुछ अरसे से मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर विवाद की स्थिति बनी हुई है। प्रदेश में कांग्रेस कमलनाथ के चेहरे पर चुनाव लड़ने का मन बना चुकी है। कांग्रेस के कई नेता कमलनाथ को भावी और अवश्यंभावी मुख्यमंत्री बताने के पोस्टर भी लगा चुके हैं।

इस पर कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री अजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव पार्टी संविधान का हवाला देते हुए यह कह चुके हैं कि निर्वाचित विधायक और पार्टी प्रमुख ही नेता का चयन करते हैं। बीते दिनों मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर राहुल गांधी से जब सवाल किया गया तो वे उसे सीधे तौर पर न केवल टल गए, बल्कि सिर्फ इतना कहा कि कांग्रेस डेढ़ सौ सीटें जीत रही है।

राहुल गांधी ने नहीं किया साफ
राहुल गांधी के बयान के बाद से राज्य के कई नेताओं के बयान आए है। कांग्रेस के मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह से सवाल किया गया तो उनका कहना था कि कुछ लोग हमारा भी नाम ले रहे हैं जो जिसके समर्थक हैं उसकी बात कर रहे हैं। छिंदवाड़ा के लोग चाहते हैं कि हमारा नेता मुख्यमंत्री बने। जहां तक मेरी बात है तो नेता नहीं मैं कार्यकर्ता हूं।

कमलनाथ के समर्थन में दिग्विजय सिंह
राहुल गांधी की बात पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से भी जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने यही कहा कि किस संसदीय लोकतंत्र में डायरेक्ट मुख्यमंत्री का चुनाव नहीं होता। विधानसभा के सदस्य के द्वारा चयन होता है, जो कहा गया है वह अपने हिसाब से ठीक है। जनभावनाएं मध्यप्रदेश की है तो 99 प्रतिशत लोग कमलनाथ नेतृत्व में चुनाव लड़े जाने के पक्ष में है और यह जन भावना है कि वही मुख्यमंत्री बने।

जीत का दावा
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बयान को ट्वीट करते हुए कमलनाथ के मीडिया सलाहकार पीयूष बबेले ने ट्वीट किया है, भगवान से धोखा करने वाली भाजपा को इस बार जनता के श्राप का सामना करना पड़ेगा। बीजेपी कितना भी झूठ फैला है लेकिन आएंगे कमलनाथ ही। दिग्विजय सिंह ने दो टूक कह दिया है कि मध्य प्रदेश की 99 प्रतिशत जनता कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनाना चाहती है मध्यप्रदेश में एक ही नारा है जय जय कमलनाथ। बता दें कि एमपी में इसी साल विधानसभा के चुनाव होने हैं। कांग्रेस लगातार अपने जीत का दावा कर री है।

About bheldn

Check Also

विक्रमादित्य सिंह ने सुक्खू मंत्रिमंडल से इस्तीफा लिया वापस, कहा- हिमाचल सरकार को खतरा नहीं

नई दिल्ली हिमाचल प्रदेश सरकार पर मंडरा रहे संकट के बादल छंट गए हैं। बुधवार …