राफेल की नजर में रहेगी पूरी दिल्ली, जी-20 बैठक के लिए IAF का एयर डिफेंस सिस्टम भी हाई अलर्ट पर

नई दिल्ली

दिल्ली में 8 से 10 सितंबर तक होने वाली जी-20 बैठक के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। दिल्ली में एनएसजी (NSG) के अलावा HIT कमांडो मोर्चा संभालेंगे। इसके लिए खुफिया एजेंसियां भी पूरी तरह अलर्ट पर हैं। बैठक में सुरक्षा के इंतजाम के लिए वायुसेना की भी मदद ली जा रही है। दिल्ली के महत्वपूर्ण स्थानों पर एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम को तैनात किया जाएगा। इतना ही नहीं किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए राफेल विमान भी पूरी तरह अलर्ट मोड में रहेंगे।

जमीन से आसमान तक रहेगा पहरा
जी-20 बैठक के लिए जमीन से आसमान तक की सुरक्षा को अभेद बनाया जा रहा है। दिल्ली में चप्पे-चप्पे पर जहां जवानों की तैनाती की जा रही है वहीं हवाई क्षेत्र के लिए भी पूरा प्लान तैयार कर लिया गया है। एएनआई के मुताबिक एयर डिफेंस मिसाइलों के साथ-साथ काउंटर-ड्रोन सिस्टम भी राष्ट्रीय राजधानी में तैनात किए जा रहे हैं। इतना ही नहीं देश के उत्तरी हिस्सों में किसी भी हलचल पर नजर रखने के लिए हवाई चेतावनी और नियंत्रण प्रणालियां (AWAC) लगातार आसमान में रहेंगी। अवाक वायुसेना का सबसे एडवांस डिफेंस और रडार सिस्टम है।

26 जनवरी से भी बड़ी तैयारी
आमतौर पर 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) के मौके पर सुरक्षा को लेकर इस स्तर के इंतजाम किए जाते हैं। कई सालों के बाद दिल्ली में इस स्तर पर अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इस दौरान वायु रक्षा प्रोटोकॉल उच्च स्तर पर होता है। उसी तरह से इंतजाम जी-20 बैठक के लिए भी किए जा रहे हैं। जी-20 सम्मेलन के लिए जिन हवाई अड्डों को अलर्ट मोड पर रखा गया है उनमें दिल्ली के पास हिंडन हवाई अड्डे और अंबाला, सिरसा, भटिंडा और आदमपुर सहित कई अन्य हवाई अड्डे शामिल हैं।

70 किमी तक नजर रखेगी ये मिसाइल सिस्टम
दिल्ली में किसी भी तरह के हवाई हमले से निपटने के लिए मिसाइल सिस्टम को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है। जानकारी के मुताबिक वायुसेना ने सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल (एमआरएसएएम) वायु रक्षा प्रणाली को दिल्ली में तैनात किया है। यह 70-80 किलोमीटर की दूरी से लक्ष्य को मार गिरा सकती है। इसके साथ ही आकाश वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली को भी खतरे वाले स्थानों में तैनात किया गया है।

About bheldn

Check Also

JNU में लेक्चर के दौरान कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर से बहस, नाम के सही उच्चारण से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली, साहित्यिक आलोचक और कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर गायत्री चक्रवर्ती स्पिवक का जवाहरलाल नेहरू …