चीन के विदेश मंत्री के बाद अब रक्षामंत्री भी गायब, शी जिनपिंग के राज में कहां लापता हो रहे नेता?

बीजिंग

चीन में विदेश मंत्री के बाद अब रक्षा मंत्री ली शांगफू भी गायब हो गए हैं। इससे पहले चीन की सेना के शक्तिशाली रॉकेट फोर्स के जनरल भी गायब हो गए थे। जापान में अमेरिका के राजदूत रेहम इमैनुअल ने चीन में बढ़ती राजनीतिक अस्थिरता की ओर ध्‍यान दिलाया है। उन्‍होंने सोशल मीडिया वेबसाइट एक्‍स पर बताया कि पिछले दो सप्‍ताह से चीन के रक्षा मंत्री नहीं देखे गए हैं। उन्‍होंने कहा कि ‘बेरोजगारी’ की इस रेस को कौन जीतने जा रहा है? चीन का युवा या शी जिनपिंग की कैबिनेट? चीनी रक्षा मंत्री के नहीं दिखाई देने पर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं।

खबरों के मुताबिक चीनी रक्षामंत्री ली शांगफू को 29 अगस्‍त, 2023 के बाद से ही नहीं देखा गया है। ली शांगफू ने चीन-अफ्रीका शांति और सुरक्षा फोरम को संबोधित किया था। इस बैठक से पहले चीनी रक्षामंत्री एक सुरक्षा सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के लिए रूस के दौरे पर गए थे। रूसी नेताओं के साथ बैठक के दौरान ली शांगफू ने ‘चीन को घेरने के लिए ताइवान के इस्‍तेमाल करने पर’ अमेरिका पर निशाना साधा था। उन्‍होंने कहा था कि ऐसा करने का कोई भी प्‍लान निश्चित रूप से फेल होने जा रहा है।

शी‍ जिनपिंग ने कई सैन्‍य अफसरों को हटाया
चीन के रक्षा मंत्री जब गायब हुए हैं, ठीक उसी समय चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग ने देश की सेना में एकता और स्थिरता का आह्वान किया है। यही नहीं उन्‍होंने सेना को जंग के लिए तैयार रहने को भी कहा है। चीनी मंत्री ली को मार्च 2023 में रक्षा मंत्री नियुक्‍त किया गया था। जुलाई महीने में शी जिनपिंग ने अपने विदेश मंत्री किन गांग को हटा दिया था। किन गांग करीब दो महीने तक लापता रहे थे और उसके बाद उनकी जगह पर वांग यी को विदेश मंत्री बनाने का ऐलान किया गया।

किन गांग को हटाने के बाद शी जिनपिंग ने रॉकेट फोर्स के जनरल ली यूचाओ और जनरल लियू गुआंगबिन को भी बर्खास्‍त कर दिया था। इन तीनों ही लोगों को सीधे शी जिनपिंग की कैबिनेट ने नियुक्‍त किया था। इन सभी के हटाने पर शी जिनपिंग की काफी किरक‍िरी हुई थी। चीन पर नजर रखने वाले विश्‍लेषकों का कहना है कि इन तीनों ही लोगों को भ्रष्‍टाचार की वजह से हटाया गया था। हालांकि असली वजह अभी तक सामने नहीं आई है। चीनी राष्‍ट्रपति इन दिनों देश की आर्थिक हालत को लेकर पार्टी के वरिष्‍ठ नेताओं के निशाने पर हैं। वहीं इन मंत्रियों के गायब होने से चीन और जिनपिंग के शासन को लेकर संदेह बढ़ता जा रहा है।

About bheldn

Check Also

कारोबार ठप, ड्राइवर फंसे, भारतीय छात्रों की वतन वापसी जारी… बांग्लादेश में हिंसा से बॉर्डर पर क्या बदला?

कोलकाता, बांग्लादेश में छात्र आंदोलन की वजह से हो रही हिंसा के मद्देनजर भारतीय छात्रों …