यूपी से लेकर ओडिशा में बारिश को लेकर अलर्ट, IMD ने की भविष्यवाणी…

नई दिल्ली

देश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश का दौर जारी है। दिल्ली में जहां पिछले दो दिन से बारिश के बाद मौसम सुहाना हो गया है। साथ ही राजधानी की हवा भी साफ हुई है। वहीं, यूपी में बारिश ने लोगों की नाक में दम कर दिया है। यहां बारिश से 19 लोगों की जान जा चुकी हैं। बिहार में मॉनसून की बेरुखी के बाद से फिर से बारिश होने की संभावना है। दूसरी तरफ मध्यप्रदेश में फिर से मॉनसून एक्टिव हो रहा है। उत्तराखंड में मौसम विभाग ने बारिश को लेकर येलो और ऑरेन्ज अलर्ट जारी किया है। आने वाले कुछ दिनों में जम्मू-कश्मीर के साथ ही पूर्वोत्तर भारत से लेकर ओडिशा तक बारिश का अनुमान है।

दिल्ली : कहीं-कहीं हल्की बारिश के आसार
राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को सुबह सुहानी रही और न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो इस मौसम के औसत तापमान से एक डिग्री सेल्सियस कम है। भारत मौसम विज्ञान विभाग(IMD) के आंकड़ों के अनुसार, शहर में सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 88 प्रतिशत थी। आईएमडी ने बताया कि दिन में बादल छाए रहने और अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। मौसम कार्यालय ने आंशिक रूप से बादल छाए रहने और एक या दो स्थानों पर बहुत हल्की बारिश या बूंदाबांदी की संभावना जताई है। अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है। इससे पहले रविवार को बारिश और ठंडी हवाओं से दिल्ली में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री तक कम हो गया था।

यूपी : 6 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट
उत्तर प्रदेश के कई जिलों में रुक-रुक कर बारिश जारी है। मौसम विभाग ने प्रदेश के छह जिलों में भारी बारिश का अंदेशा जताते हुए अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के बहराइच तथा बाराबंकी के कुछ इलाकों में 250 मिमी बारिश हुई है। राज्य में सोमवार को बारिश के कारण 19 लोगों की मौत हो गई। बारिश के कारण कुछ जिलों में स्कूलों को एक से दो दिन के लिए प्रशासन ने बंद कर दिया था। मंगलवार को आसमान साफ होने के साथ राज्य की राजधानी में स्कूल फिर से खुल गए। मौसम कार्यालय ने छह जिलों- लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, सीतापुर, बाराबंकी और गोंडा के लिए भारी बारिश का ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है और चार जिलों-हरदोई, लखनऊ, सिद्धार्थनगर और बस्ती के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है। ​मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार पूर्वी उत्तर प्रदेश में आगामी 14 सितंबर तक भारी बारिश होने की संभावना है जबकि 17 तारीख तक हल्की बारिश जारी रहेगी। राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में भी 17 तारीख तक बारिश और बौछारें पड़ने की संभावना है। 15 सितंबर तक राज्य में कुछ स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने का भी अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तराखंड : फिर मानसूनी बारिश का दौर, येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी
उत्तराखंड में एक बार फिर मानसूनी बारिश का दौर जारी है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक फिलहाल बारिश से राहत के आसार नहीं है। प्रदेश में अगले 72 घंटे भारी बारिश को लेकर येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक. सोमवार 11 सितंबर को पहाड़ से लेकर मैदान तक भारी बारिश की संभावना है जिसको लेकर मौसम विभाग ने राज्य के सभी 13 जनपदों में गरज चमक के साथ वर्षा के तीव्र से अति तीव्र दौर की संभावना जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक प्रदेश के देहरादून, चंपावत, नैनीताल, उधम सिंह नगर, टिहरी, पौड़ी, बागेश्वर, चमोली, अल्मोड़ा, उत्तरकाशी, हरिद्वार और बागेश्वर जिले में कहीं कहीं तेज गर्जन के साथ मूसलाधार बारिश की संभावना है जिसको लेकर इन जिलों में यलो अलर्ट जारी कर ऐतिहात बरतने की सलाह दी गई है। मौसम विज्ञान केंद्र द्वारा जारी पूर्वानुमान के मुताबिक प्रदेश में अगले तीन-चार दिन मूसलाधार बारिश की संभावना है। इसको लेकर मौसम विभाग ने 14 सितंबर तक येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

बिहार : उत्तर बिहार में बारिश का अनुमान
बिहार और झारखंड में बारिश का कोटा अभी पूरा नहीं हो पाया है। बिहार में पिछले कुछ दिन में मॉनसून कमजोर हुआ है। हालांकि, बंगाल की खाड़ी के ऊपर अगले 48 घंटों के भीतर निम्न दबाव क्षेत्र बनने की संभावना है। ऐसे में पूर्वी भारत में बारिश के आसार हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पूर्वानुमान लगाया है कि इन प्रणालियों के प्रभाव से अनजाने में अगले कुछ दिनों में बिहार और झारखंड में बारिश का मौसम होगा। मौसम विभाग का कहना है कि अगले चार दिनों में उत्तर बिहार के कई जिलो में हल्के से मध्यम बादल छाए रह सकते हैं। राज्य के तराई तथा मैदानी हिस्सों के जिलों में कुछ जगहों पर मध्यम वर्षा होने का अनुमान है।

मध्य प्रदेश : 15 से शुरू होगा बारिश का दौर
मध्य प्रदेश में मानसूनी बारिश का सिलसिला जारी है। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तरी मध्यप्रदेश और दक्षिणी उत्तर प्रदेश से ट्रफ लाइन गुजर रही है। यहां साइक्लोनिक सर्कुलेशन भी एक्टिव है। इस वजह से प्रदेश में मध्यम से भारी बारिश हुई है। मौसम विभाग के अनुसार राज्य में अगले 2 से 3 दिन तक तेज बारिश में थोड़ी कमी आएगी। 13 और 14 सितंबर को बंगाल की खाड़ी से लो प्रेशर एरिया एक्टिव होगा। इससे 15 से 21 सितंबर तक बारिश होने का अनुमान है। मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार जबलपुर और चंबल संभाग के सभी जिलों के साथ ही ग्वालियर जिले में अलग-अलग स्थानों पर बारिश का अनुमान है।

ओडिशा : अगले दो दिन के लिए रेड अलर्ट
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को अगले दो से तीन दिनों में ओडिशा के कुछ जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया। IMD, भुवनेश्वर के वरिष्ठ वैज्ञानिक उमाशंकर दास ने कहा कि ओडिशा 6 जिलों – मलकानगिरी, कोरापुट, नबरंगपुर, कालाहांडी, बोलांगीर और कंधमाल में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके चलते रेड अलर्ट जारी किया गया है। बुधवार को कटक, ढेंकनाल, अंगुल, बौध, सोनपुर, कंधमाल और बालांगीर ज़िलों में भारी बारिश होने की संभावना है। इन जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। आईएमडी के अनुसार, बंगाल की पूर्व-मध्य खाड़ी और उसके आसपास के क्षेत्र पर चक्रवाती परिसंचरण है। अब यह बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों और निकटवर्ती उत्तरी बंगाल की खाड़ी पर स्थित है। इसके प्रभाव के तहत, अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम और निकटवर्ती पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। मौसम विभाग का कहना है कि इसके बाद, इसके और अधिक चिह्नित होने और दक्षिण ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश तट पर पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।

जम्मू : बारिश से लोगों को मिली राहत
जम्मू के रियासी 11 सेमी तथा जम्मू में 8 सेमी तथा सांबा में 7 सेमी भारी वर्षा हुई है। प्रदेश में 15 सितंबर तक आंशिक बादलों के साथ हल्की बूंदाबांदी की संभावना है। मौसम विभाग की तरफ से यह जानकारी दी गई। गर्मी से बेहाल लोगों के लिए एक दिन पहले हुई बारिश के बाद मौसम राहत भरा रहा। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में मौसम के मिजाज यूं ही बदले रहेंगे। लोगों को बारिश के बाद गर्मी से राहत मिलेगी

About bheldn

Check Also

JNU में लेक्चर के दौरान कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर से बहस, नाम के सही उच्चारण से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली, साहित्यिक आलोचक और कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर गायत्री चक्रवर्ती स्पिवक का जवाहरलाल नेहरू …