BJP की दूसरी लिस्ट में हीरेंद्र सिंह बंटी को मिला दिग्विजय के गढ़ से टिकिट, सिंधिया की हैं पसंद

गुना ,

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2023 के मद्देनजर बीजेपी ने 39 प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी कर दी है. सूची में हाईप्रोफाइल विधानसभा सीट राघोगढ़ से हीरेन्द्र सिंह बंटी को टिकट दिया गया है. हीरेन्द्र सिंह बंटी कांग्रेस का साथ छोड़कर ज्योतिरादित्य सिंधिया के सानिध्य में बीजेपी से जुड़े थे. ज्योतिरादित्य सिंधिया की पसंद को भाजपा ने तरजीह देते हुए हीरेन्द्र सिंह को प्रत्याशी बनाया है.

हीरेन्द्र सिंह ने 4 दिसंबर 2021 में भाजपा का दामन थामा था. वर्तमान में हीरेन्द्र सिंह भाजपा के जिला उपाध्यक्ष हैं. हीरेन्द्र सिंह की राजनीतिक पृष्ठभूमि पर नजर डालें तो वे 2000-05 तक राघोगढ़ के जनपद पंचायत सदस्य रहे. 2008-19 तक शक्कर कारखाने के संचालक रहे.

हीरेन्द्र सिंह के पिता मूल सिंह दादाभाई कांग्रेस से दो बार 1985 और 2008 में विधायक रहे थे. साल 2000-05 में जिला पंचायत अध्यक्ष भी रहे थे. मूलसिंह को दिग्विजय सिंह दादाभाई कहकर संबोधित करते थे. मूलसिंह दादाभाई दिग्विजय सिंह के राजनीतिक सलाहकार भी रहे हैं.

लेकिन अंदरूनी उठापटक के चलते हीरेन्द्र सिंह बंटी ने दिग्विजय सिंह का साथ छोड़ दिया और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भाजपा में शामिल हो गए. ज्योतिरादित्य सिंधिया भी हीरेन्द्र सिंह के सहारे दिग्विजय सिंह के किले में सेंधमारी करना चाहते हैं. वर्तमान में दिग्विजय के पुत्र जयवर्धन गुना जिले की राघोगढ़ से विधायक हैं.

टिकट फाइनल होते ही हीरेन्द्र सिंह बंटी ने एक पोस्टर भी जारी किया है जिसमें वे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को धन्यवाद ज्ञापित कर रहे हैं. हीरेन्द्र सिंह बंटी ने लिखा, “इस महत्वपूर्ण क्षण पर केंद्रीय और राज्य सरकार को ह्रदय से आभार व्यक्त करते हैं. आपने हमारे प्रति अपना विश्वास प्रकट किया है, और हम आश्वासन देते हैं कि हम आपके विश्वास को पूरी ईमानदारी से निभाएंगे.

आपका विश्वास हमारे लिए महत्वपूर्ण है, और हम यकीन दिलाते हैं कि हम आपके विश्वास के लायक हैं और चुनाव में विजयी होकर हम आपके आशीर्वाद को पूरा करेंगे. हमारे क्षेत्रवासियों और कार्यकर्ताओं की ओर से भी धन्यवाद “मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने 39 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की है. केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को भी विधानसभा चुनाव का टिकट दिया गया है. वह दिमनी सीट से चुनाव लड़ेंगे. इन 39 उम्मीदवारों में कई सांसद भी शामिल हैं. वहीं, तीन केंद्रीय मंत्रियों को भी चुनावी मैदान में उतारा गया है.

About bheldn

Check Also

फर्जी Dr. के खिलाफ सरकार का एक्शन प्लान रेडी, सिर्फ एक क्लिक से सामने आ जाएगी सारी डिग्री

भोपाल ‘झोला छाप डॉक्टर बने परेशानी’, ‘झोला छाप डॉक्टर ने ली मरीज की जान’, ‘बीमारों …