अशोक गहलोत सरकार के मंत्री पर रेड, ईडी की छापेमारी से नहीं बच पाए राजेंद्र यादव

जयपुर

पेपर लीक के आरोपियों के ठिकानों और जल जीवन मिशन से जुड़े भ्रष्टाचार के मामलों के बाद अब ईडी ने एक बार फिर गहलोत के करीबी मंत्री के ठिकानों पर छापे डाले हैं। दिल्ली से आई ईडी की टीम ने मंगलवार 26 सितंबर की सुबह गृह राज्यमंत्री राजेन्द्र यादव के ठिकानों पर छापे मारे हैं। यादव कोटपूतली के रहने वाले हैं। ऐसे में ईडी की टीमों ने कोटपूतली बहरोड़ और जयपुर स्थित ठिकानों पर दबिश दी है। सुरक्षा के लिहाज से राजस्थान पुलिस के बजाय केन्द्रीय रिजर्व पुलिस की टीमें तैनात की गई है। बताया जा रहा है कि कुल 53 ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की जा रही है।

फैक्ट्रियों और दफ्तरों पर चल रही जांच
मंत्री राजेन्द्र यादव का कारोबार काफी बड़ा है। एजुकेशन से जुड़े कामकाज के साथ कई तरह के प्रोडेक्ट बनाने की फैक्ट्रियां है। इन फैक्ट्रियों और फैक्ट्रियों के दफ्तरों में अल सुबह ही ईडी की टीमें पहुंच गई। कोटपूतली इलाके में पोषाहार बनाने की एक फैक्ट्री है। उनके खिलाफ पोषाहार वितरण में धांधली करने के आरोप पूर्व में लगे थे। करीब सालभर पहले यहां आयकर विभाग की टीमों ने भी कार्रवाई की थी। अब इन्हीं ठिकानों पर ईडी की रेड हुई है।

गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव के ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) टीमों ने आज सुबह एक साथ दबिश दी। जानकारी के अनुसार फिलहाल यह सामने आया है कि ईडी की यह कार्रवाई मिड-डे मील घोटाला मामले में जांच-पड़ताल के संबंध में है। मंत्री राजेंद्र यादव के जयपुर, कोटपूतली और विराटनगर सहित अन्य जगहों पर ईडी की टीमें आज सुबह-सुबह ही पहुंच गईं। ये टीमें फिलहाल मंत्री यादव के व्यवसाय से जुड़ी कंपनियों के कागजों को खंगाल रही है।

About bheldn

Check Also

स्लॉटर हाउस में अमानवीय स्थिति, दबिश देकर पुलिस ने 57 नाबालिग बच्चों का किया रेस्क्यू

गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की क्राइम ब्रांच पुलिस और थाना मसूरी पुलिस की संयुक्त …