जिहादी भाषण, वीडियो देखकर शाहरुख ने की आतंकी वारदात… केरल ट्रेन अग्निकांड में NIA की चार्जशीट दाखिल

नई दिल्ली,

एक शख्स, जिसका ठिकाना यहां दिल्ली के शाहीन बाग में था. वह एक दिन अचानक घर से निकल गया. ट्रेन पकड़ी और केरल की ओर चल पड़ा. घर वाले सोच रहे थे, बेटा कहीं गया होगा, लेकिन इस नौजवान के दिलो-जेहन में एक खौफनाक वारदात पल रही थी. इरादा था कि वह दिल्ली से दूर जाएगा, वहां आतंकी वारदात को अंजाम देगा, और फिर शाहीनबाग लौट आएगा. जिंदगी यूं ही चलती रहेगी.

…मगर इरादे नहीं हुए कामयाब
मगर उसके इरादे कामयाब नहीं हुए. शख्स पकड़ा गया, पूछताछ के कई सिलसिसे चले और जो खौफनाक बातें सामने आईं तो जांच कर रही NIA ने इस आधार पर शुक्रवार को चार्जशीट दाखिल की है. यहां बात हो रही है केरल के कोझिकोड में हुई उस संगीन वारदात की, जिसमें एक शख्स ने कुछ रेलयात्रियों पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी थी. दिल्ली के शाहीनबाग में रहने वाले इस शख्स का नाम शाहरुख सैफी है. सैफी पुलिस गिरफ्त में है.

जिहाद के इरादे से गया था केरल
NIA ने चार्जशीट में कहा है कि, शाहरुख सेल्फ रेडक्लाइज था. जिहाद करने के इरादे से दिल्ली से केरल गया और आतंकी वारदात को अंजाम दिया.शाहरुख का प्लान था की वो दिल्ली से दूर आतंकी वारदात को अंजाम देगा और फिर शहीनबाग आकर नॉर्मल जिंदगी जिएगा.

NIA की चार्जशीट में कई खुलासे
बता दें कि, राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने शुक्रवार को केरल ट्रेन आगजनी मामले में एकमात्र आरोपी के खिलाफ चार्जशीय दायर कर दिया है. इस हादसे में एक बच्चे सहित तीन यात्रियों की मौत हो गई थी और नौ अन्य घायल हो गए थे. 27 साल के आरोपी ​​शाहरुख सैफी पर आईपीसी, यूए(पी)ए, रेलवे अधिनियम और पीडीपीपी अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत आरोप लगाए गए हैं.

ट्रेन में लोगों पर छिड़का पेट्रोल और लगा दी आग
उस पर 2 अप्रैल, 2023 को अलाप्पुझा-कन्नूर एक्जीक्यूटिव एक्सप्रेस के डी1 कोच में आग लगाकर आतंकवादी कृत्य करने का आरोप है. एनआईए की चार्जशीट में कहा गया है कि इस भयानक मामले में एकमात्र आरोपी सैफी ने यात्रियों पर पेट्रोल फेंका और छिड़का था और लोगों को मारने के इरादे से लाइटर से बोगी में आग लगा दी थी. सैफी सैफी चलती अलाप्पुझा-कन्नूर एक्जीक्यूटिव एक्सप्रेस में चढ़ गया था. आतंकी वारदात को अंजाम देने के बाद उसे महाराष्ट्र के रत्नागिरी से गिरफ्तार किया गया था.

31 मार्च को नई दिल्ली से गया था केरल
एनआईए की जांच से पता चला है कि उसने 31 मार्च 2023 को नई दिल्ली से केरल की यात्रा की थी और 2 अप्रैल को वहां पहुंचा था. आरोपी ने शोरानूर में एक पेट्रोल बंक से पेट्रोल और शोरानूर रेलवे स्टेशन के पास की दुकान से एक लाइटर खरीदा था. एनआईए की जांच से ये भी सामने आया है कि, सैफी ने आतंक और आगजनी से जुड़ी वारदात के लिए केरल को इसलिए चुना था क्योंकि वह अपने जिहादी इरादों को वहां, अंजाम देना चाहता था, जहां उसे पहचाना न जा सके. उसका इरादा था कि वह ऐसा करके शाहीनबाग लौट आएगा और पकड़ा नहीं जाएगा, फिर सामान्य जिंदगी जीने लगेगा.

हिंसक उग्रवाद और जिहाद के लिए खुद से हुआ प्रेरित
आरोपी हिंसक उग्रवाद और जिहाद के लिए खुद से ही प्रेरित हुआ था. वह सोशल मीडिया पर मौजूद ऐसे जिहादी कंटेट से खुद ही कट्टरपंथ की ओर अग्रसर हुआ था. सैफी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कट्टरपंथी और कट्टरपंथी इस्लामी प्रचारकों का अनुसरण किया, जिनमें पाकिस्तान स्थित लोग भी शामिल थे. उसने ऑनलाइन कट्टरपंथ की प्रेरणा से खुद ही जिहादी आतंकी घटना को अंजाम देने के लिए आगजनी की थी.

NIA ने दिल्ली में 10 स्थानों पर ली तलाशी
मामला शुरू में केरल राज्य के कोझिकोड रेलवे पुलिस स्टेशन में और बाद में विशेष जांच दल, केरल द्वारा एफआईआर संख्या 38/2023 के रूप में दर्ज किया गया था. 17 अप्रैल को, गृह मंत्रालय के आदेश पर एनआईए ने मामले (आरसी-01/2023/एनआईए/केओसी) की जांच अपने हाथ में ले ली. अपनी जांच के दौरान, एनआईए ने दिल्ली में 10 स्थानों पर तलाशी ली और डिजिटल उपकरण जब्त किए. कई गवाहों से पूछताछ की गई और रेलवे स्टेशन से सीसीटीवी फुटेज भी जब्त किए गए.

About bheldn

Check Also

मॉनसून पर IMD ने दी गुड न्यूज, जानिए आपके राज्य में कब तक होगी मॉनसून की पहली बारिश

नई दिल्ली पिछले कुछ दिनों से दिल्ली एनसीआर समेत आसपास के राज्यों में प्रचंड गर्मी …