TMC ने दिल्ली में मोदी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, सुवेंदु अधिकारी को बताया गद्दार और धोखेबाज

कोलकाता,

पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी पार्टी टीएमसी ने मोदी सरकार के खिलाफ दिल्ली में मोर्चा खोल रखा है. पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल में मनरेगा और आवास योजना की निधि के बकाए फंड की मांग को लेकर दिल्ली के जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं, बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी ने मनरेगा फंड में घोटाले का आरोप लगाते हुए सीबीआई जांच की मांग की है. इसी बीच टीएमसी नेता कुणाल घोष ने बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी को गद्दार, जलील और धोखेबाज बताया. वहीं, पश्चिम बंगाल सरकार में मंत्री शशि पांजा ने सुवेंदु अधिकारी को बंगाल विरोधी बताया.

उधर, दिल्ली में टीएमसी के प्रदर्शन पर सुवेंदु अधिकारी ने कहा, लोकसभा चुनाव से पहले, पश्चिम बंगाल में अपने खिसकते जनाधार को वापस लाने के लिए, वे यह राजनीतिक अभियान चला रहे हैं. यह दिल्ली में टीएमसी पार्टी द्वारा झूठा, मनगढ़ंत राजनीतिक अभियान है.

झूठे आरोप लगा रही टीएमसी
सुवेंदु अधिकारी ने कहा, टीएमसी 12 सालों से बंगाल पर राज कर रही है. ये झूठे आरोप लगा रहे हैं. टीएमसी फेडरल स्ट्रक्चर को तोड़ रही है. इस मामले में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और अनुराग ठाकुर अपनी बात रख चुके हैं. अधिकारी ने कहा, कल बापू के जन्मदिन पर राजघाट पर टीएमसी के नेताओं ने जमकर बदमाशी की. ये दल गुंडा पार्टी है. इनके तीन एजेंडे हैं, परिवारवाद , गुंडा राज और तुष्टीकरण. ये लोग केंद्र की योजनाएं बंगाल में लागू नहीं कर रहे हैं. बंगाल में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना नहीं चल रही है. वहां आयुष्मान योजना नहीं है. ये लोग हर योजना पर राजनीति करते हैं. ये दिल्ली की कुर्सी का सपना देख रहे हैं, यही इनकी आदत है.

सीबीआई जांच की करूंगा मांग- अधिकारी
सुवेंदु अधिकारी ने कहा, गोवा, त्रिपुरा , मेघालय चुनाव में टीएमसी का खाता नहीं खुला. ऐसे में अपना खोया हुआ जनाधार वापस लाने की कोशिश में जुटे हैं. 24 परगना जिले में 15 लाख फर्जी जॉब कार्ड बांटा गया. मनरेगा में 2009 से 2012 तक 14900 करोड़ मिला, जबकि NDA की सरकार में 54 हजार करोड़ मिला. इसमें से कम से कम 5 हजार करोड़ रुपये टीएमसी नेताओं ने अपने घर पर रख लिया. यह बहुत बड़ा घोटाला है. मैं केंद्रीय मंत्री निरंजन ज्योति से मिलकर इस मामले में सीबीआई जांच की मांग करूंगा.

About bheldn

Check Also

JNU में लेक्चर के दौरान कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर से बहस, नाम के सही उच्चारण से जुड़ा है मामला

नई दिल्ली, साहित्यिक आलोचक और कोलंबिया यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर गायत्री चक्रवर्ती स्पिवक का जवाहरलाल नेहरू …