चार राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी की करारी हार निश्चित : सचिन पायलट

टोंक

आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट एक बार फिर टोंक में एक्टिव मोड में आ गए हैं। इस दौरान अपने दो दिवसीय दौरे के पहले दिन पायलट ने बड़े आत्मविश्वास के साथ बीजेपी को जमकर घेरा। वहीं बड़ा दावा करते हुए कहा कि इस बार चार राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी निश्चित रूप से हारेगी और कांग्रेस अच्छे बहुमत से सरकार बनाएगी। इस दौरान पत्रकारों ने जब पायलट से पूछा कि कहते हैं कि कांग्रेस में सत्ता की चाबी सचिन पायलट के पास है। इस पर पायलट ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया कि ‘सत्ता की चाबी तो, जनता के पास होती है और यह चाबी जनता उन्हें को देगी। जो जनता के बीच जाएगा और जनता के बीच अपनी बात रखेगा। जो जनता के दिलों दिमाग में राज करेगा। उसे ही जनता सत्ता की चाबी सौंपेगी। पायलट के इस बयान के बाद सियासी गलियारों में इसके मायने निकाले जा रहे हैं।

जीताऊ उम्मीदवारों को ही पार्टी टिकट देगी
पायलट ने टोंक में एक बार फिर कहा कि पार्टी इस बार केवल जीताऊ उम्मीदवार पर ही अपना दांव खेलेगी। उम्मीदवार की जीत की संभावना ही उसके टिकट का आधार बनेंगी। जिस उम्मीदवार का धरातल मजबूत होगा। पार्टी उसे प्राथमिकता देगी। उन्होंने कहा कि पार्टी में ‘तेरा मेरा’ के कारण विवाद पैदा होता है। इसलिए यह विवाद खत्म कर दो। इस बार नेताओं की मेरिट के आधार पर ही टिकट वितरण होगा। पार्टी जल्द ही टिकट वितरण को लेकर लिस्ट जारी करेगी। इसको लेकर हमारे पर्यवेक्षक कार्यकर्ताओं से लगातार फीडबैक ले रहे हैं। इसके बाद पार्टी मंथन कर टिकटों की सूची जारी करेगी।

बहुमत होने के बाद भी केंद्र अधर में है
पायलट ने टोंक में अपने दौरे के पहले दिन केंद्र कि भाजपा सरकार पर जमकर आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि, केंद्र में बीजेपी सरकार के पास पूर्ण बहुमत है। 25- 25 सांसद राजस्थान से जीतकर गए हैं। फिर भी ऐसी बीजेपी सरकार अधर में झूल रही है। वह अभी तक यह निर्णय नहीं कर पा रही है कि उनको किस दिशा में जाना है। जनता के लिए उनके मन क्या विजन हैं। बीजेपी में अभी तक यह तय नहीं हो पाया हैं कि राजस्थान में चुनाव किसके नेतृत्व में लड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के नेताओं की आपसी खींचतान लोगों में जग जाहिर है। जबकि हमारे यहां कांग्रेस पार्टी में सरकार और संगठन एक जुट होकर आगे बढ़ रही हैं। इसलिए हमें विश्वास है कि निश्चित रूप से राजस्थान और मध्यप्रदेश में बहुमत के साथ कांग्रेस सरकार बनाएगी।

टोंक में रेल के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर निशाना
इस दौरान पत्रकारों ने पायलट पर तंज कसते हुए पूछा कि अगर बदलाव होता है तो टोंक में रेल कितने दिनों में आ जाएगी। इस पर पायलट ने मुस्कुराते हुए कहा कि डिफेंस, टेलीकॉम और रेल यह ऐसे मुद्दे हैं, जो केंद्र सरकार के अधीन होते हैं। उन्होंने कहा कि मैं जब केंद्रीय मंत्री था। तब मैंने इसके लिए काफी प्रयास किया। लेकिन केंद्र सरकार ने इस मुद्दे को लेकर बेरुखी दिखाई है। जिसको लेकर जनता उन्हें जवाब देगी। उन्होंने कहा कि इसको लेकर राज्य सरकार को जो भी सहयोग करना चाहिए वह सहयोग दिया गया है।

About bheldn

Check Also

राजस्थान: चंबल नदी में मिला 3 साल की मासूस का शव, रेप के बाद हत्या, दो नाबालिग अरेस्ट

धौलपुर, राजस्थान के धौलपुर जिले में चंबल नदी से एक तीन साल की मासूम बच्ची …