टी-शर्ट पर खून के छींटे, सोने के कंगन और 2500 रुपये…. पोता निकला दादी का कातिल, पुलिस को देता रहा चकमा

लखनऊ

यूपी के लखनऊ में 90 साल की महिला की हत्या के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। उनके सिर पर चोट थी और गला कटा हुआ था। जब उनकी हत्या हुई वे घर पर अकेली थीं। उनके 4 बेटे हैं मगर वे अकेली ही रहती थीं। पुलिस के अनुसार, बुजुर्ग महिला शैल कुमारी की हत्या किसी औऱ ने नहीं बल्कि उनके पोते ने की है। आरोपी पोते का नाम मानस है। वह शराब पीने का आदि है और अक्सर पैसे मांगने के लिए दादी के पास जाया करता था। रविवार को भी वह शराब पीने के पैसे मांगने के लिए दादी के पास गया था। इस बार दादी ने मानस को पैसे देने से इनकार कर दिया। इसके बाद चंद रुपयों के लिए उसने दादी को मौत के घाट उतार दिया।

बांके से सिर पर किया हमला
रिपोर्ट के अनुसार, उसने पैसे मांगे मगर दादी ने पैसे देने से इनकार कर दिया तो उसने बांके से उनके सिर पर हमला कर दिया। हमला करने के बाद उसने चाकू से गला रेत दिया। इसके बाद उसने हाथ से कंगन निकाल लिए औऱ घर में रखे हुए 2500 रूपये लेकर वहां से भाग गया।

मामले में डीसीपी नॉर्थ कासिम अब्दी ने कहा कि आरोपी ने पुलिस से बचने के लिए एक नया सिमकार्ड ले लिया। वह पुलिस को चकमा दे रहा था। हालांकि पुलिस ने मोबाइल के ईएमईआई नंबर से उसे खोज निकाला। वह नवीन गल्ला मंडी बंधा रोड के पास था। पकड़ में आने के बाद भी वह पुलिस को घुमाता रहा। वह कहता रहा कि उसने दादी की हत्या नहीं की है मगर पुलिस ने उसकी टीशर्ट पर खून के छीटे देख लिए थे। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो मानस ने अपना गुनाह कबूल कर लिय।

पूछताछ में मानस ने पुलिस को बताया कि दादी उसे पैसे नहीं दे रही थी। इसलिए उनकी हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस ने मानस के पास से 1850 रुपये और सोने के कंगन बरामद कर लिए हैं। मानस ने हत्या में इस्तेमाल हथियार को पुल के नीचे छिपा पेड़ की झाड़ में छिपा दिया था। पुलिस को एक डायरी भी मिली है जिसमें वह शायरी लिखता था।

About bheldn

Check Also

मुगलों के ताजमहल से लड़ने को तैयार है आगरा की ये सफेद इमारत, 104 साल में हुई तैयार, अब यहां का भी लगेगा टिकट

आगरा का नाम आते ही, जहन में सबसे पहला नाम ताजमहल का आता है, और …