खूनी रंजिश, घातक हमला और गैंगवार… मां ने झाडू लेकर हमलावरों को खदेड़ा, देखें महिला की बहादुरी का Video

भिवानी,

हरियाणा का भिवानी शहर अचानक गोलियों की आवाज़ से दहल उठा. जहां पुरानी रंजिश के चलते एक शख्स पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई. इस हमले में उस शख्स को तीन गोलियां लगीं. इस दौरान एक महिला ने बड़ी हिम्मत दिखाई और झाड़ू लेकर हमलावरों को मौका-ए-वारदात से खदेड़ दिया. दिल दहला देने वाली ये पूरी वारदात वहां लगे एक सीसीटीवी (CCTV) कैमरे में कैद हो गई. अब उस बहादुर महिला की हर तरफ चर्चा हो रही है.

वारदात सुबह करीब 8 बजे की है. जब कुछ लोगों की नींद भी नहीं खुली होगी, तब अचानक डाबर कॉलोनी में दिनदहाड़े फ़िल्मी अंदाज में ताबड़तोड़ फ़ायरिंग होने लगी. एक नहीं दो नहीं बल्कि दस बार गोली चली. दरअसल, वहां रहने वाला हरिकिशन उर्फ हरिया अपने घर के बाहर खड़ा था. तभी अचानक दो बाइक सवार चार युवक वहां पहुंचे और पता पूछने का बहाना किया.

लेकिन अगले ही पल उनमें से दो युवक बाइक से उतरे और हरिया को निशाना बनाकर फायरिंग करने लगे. गोली चलते ही हरिया अपने घर के अंदर भागा. लेकिन बदमाशों फायरिंग करते रहे. उन्होंने एक बाद एक लगातार दस राउंड के करीब फायरिंग की. तभी सामने के मकान में रहने वाली एक महिला झाडू लेकर अपने घर निकल कर बाहर आई और फायरिंग के दौरान बिना डरे बदमाशों की तरफ जाने लगी. हमलावरों उस महिला की तरफ़ भी फ़ायरिंग की.

लेकिन वो महिला नहीं डरी और बदमाश उसे देखकर वहां से फरार हो गए. इस गोलीबार का शिकार बने हरिया को तीन गोलियां लगी हैं. पहले हरिया को आनन फानन में सिविल अस्पताल ले जाया गया. लेकिन उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया. सूचना मिलते ही अनाज मंडी चौकी, सिटी थाना पुलिस और सीआईए टीम मौका-ए-वारदात यानी हरिया के घर पहुंची.

मगर हैरानी की बात ये है कि इतनी बड़ी वारदात हो जाने के बाद भी पीड़ित के घरवालों ने पुलिस से कोई शिकायत नहीं की और ना ही घर में पूछताछ या जांज पड़ताल करने दी. उधर, बदमाशों का सामना करने वाली महिला ने आजतक से बात की. उस महिला का नाम शकुंतला है. उसने बताया कि वो अपने पशुओं के बाड़े में झाड़ू लगा रही थी. तभी उसे पटाखे चलने की आवाज़ आई. पड़ोस में शादी थी, लिहाजा, उसे लगा कि शादी में कोई पटाखे जला रहा है. तभी घर से निकलकर बाहर आई. वो पटाखे बजाने वाले को रोकना चाहती थी, ताकि इनकी आवाज़ उसके पशु ना डरें.

पर महिला जब बाहर आई तो उसने देखा कि वहां पटाखे नहीं, बल्कि कुछ बदमाश उसके बेटे हरिया पर गोलियां दाग रहे थे. तभी वो उन बदमाशों के पीछे अपनी झाड़ू लेकर दौड़ी. शकुंतला का कहना है कि एक बदमाश ने उसकी तरफ भी फायरिंग की पर वो डरी नहीं. शकुंतला ने कहा कि हरिया तो उसका बेटा था, पर किसी और पर भी कोई ऐसे हमला करता और उसे पता चलता तो वो उसे भी बिना डरे बचाती.

इस मामले पर अभी पुलिस या पीड़ित के घरवाले कुछ भी विस्तार से बताने को तैयार नहीं हैं. हालांकि मौके पर पहुंचे अनाज मंडी पुलिस चौकी के इंचार्ज दीपक कुमार ने बताया कि घायल हरिया को रोहतक रेफर किया गया है. दो बाइक सवार चार बदमाशों ने 8-10 राउंड फ़ायरिंग की है. एएसआई दीपक ने बताया कि हरिया पर भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. उन्होंने कहा कि परिजनों की शिकायत मिलने व आसपास के CCTV देखने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

भिवानी में ये कोई पहला मामला नहीं है, वहां आए दिन एक के बाद एक होने वाली गोलीबारी की ये बड़ी घटनाएं पुलिस और क़ानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा रही हैं. वहीं गोलियों के बीच जाकर हमलावरों को खदेड़ने वाली महिला शकुंतला की हर कोई तारीफ कर रहा है.

About bheldn

Check Also

‘नीतीश का NDA में लौटना नुकसानदेह’, दीपांकर भट्टाचार्य ने JDU-BJP दोस्ती को लेकर किया बड़ा खुलासा, सियासी हलचल तय

पटना भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) लिबरेशन के नेता दीपांकर भट्टाचार्य ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश …