भोजपाल महोत्सव मेले में देखने को मिलेगा दुबई के मॉल जैसा मछलियों का घर संसार

180 फीट लंबे अंडर वाटर टनल में दिखेगी एक ग्राम से 80 किलोग्राम तक की मछली

भोपाल.

राजधानी भोपाल के भेल दशहरा मैदान पर चल रहे भोजपाल महोत्सव मेले में लोगों को इस बार मछलियोंं का घर संसार देखने को मिलेगा। दुबई, सिंगापुर, मलेशिया, बैंकाक, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, और चंडीगढ़ में बनाया गया अंडर वाटर टनल अब आपको अपने शहर में लगे भोजपाल महोत्सव मेले में देखने को मिलेगा। यहां जमीन के भीतर करीब 180 फीट लंबे अंडर वाटर टनल और फिश एक्वेरियम में 300 से ज्यादा विभिन्न प्रकार की मछलियां देखने को मिलेंगी।

मेला अध्यक्ष सुनील यादव ने बताया कि शहर में पहली बार लोगों को विभिन्न तरह की रंग बिरंगी मछलियां देखने को मिलेंगी। अध्यक्ष ने बताया कि यहां एक मछली घर था, जहां बच्चे परिवार के साथ जाकर मछलियों को देखते थे और उनके बारे में जानकारी हासिल करते थे, लेकिन उसे सरकारी आदेश के बाद बंद कर दिया गया। अब मेले में लगाए गए इस अंडर वाटर टनल के माध्यम से लोगों को समुद्री जीव-जंतुओं के साथ मछलियों का घर संसार देखने को मिलेगा।

अंडर वाटर टनल की खासियत
भोजपाल महोत्सव में लगाया गया अंडर वाटर टनल (एक्वेरियम) आपको पानी के नीचे एक पूरी तरह से अलग दुनिया में ले जाएगा। यहां आप समुद्र के भीतर की दुनिया से रू-ब-रू होंगे। आप पानी के नीचे होंगे और समुद्र में रहने वाली मछलियां आपके आसपास और ऊपर होंगी। इस एक्वेरियम के माध्यम से आपको जलीय जीवन को करीब से देखने और जानने का मौका मिलेगा। यहां आने वाले लोग सुरंग के शीर्ष ऐक्रेलिक ग्लास के माध्यम से ऊपर, नीचे और उनके चारों ओर जलीय जीवन को देख सकेंगे। यहां 180 डिग्री के दृश्य के साथ एक बड़ा मछलीघर है, जिसमें लोग विभिन्न प्रकार से समुद्री जीवन का लुत्फ उठा सकेंगे।

एक ग्राम से 80 किलोग्राम तक की मछली
भोजपाल महोत्सव मेले में एक किलोग्राम से लेकर करीब 80 किलोग्राम तक की मछली देखने को मिलेगी। यहां विभिन्न प्रकार और प्रजाति की रंग-बिरंगी मछलियां भी होंगी। एक्वेरियम में ले आई गई अरुपमा मछली करीब 80 किलोग्राम की है। इसकी लम्बाई करीब 6 फीट है। अंडर वाटर टनल और एक्वेरियम लगाने वाले रफीक भाई ने बताया कि एक मछली की कीमत 4 से 5 लाख रुपए तक होती है।

टनल में ये मछलियां देखने को मिलेंगी
भोजपाल महोत्सव मेले में लगाए गए अंडर वाटर टनल और एक्वेरियम में एलिवेटर गार (मगरमच्छ की तरह दिखने वाली मछली), कलर टे्रटा, व्हाइट टाइगर शार्क, फिराना (यह मछली अमेजन नदी में पाई जाती है), एंजिल फिश, इलेक्ट्रिक ईल फिश (सांप जैसी दिखने वाली मछली), टाइगर ऑस्कर, रेड पैरेट फिश (यह 6 तरह की है), लापन टे्रड, ओरंदा गोल्डन फिश, टेली स्कोप गोल्ड, चाइनीज कोई फिश, अरवाना (यह घर में वास्तु के लिए रखी जाती है), फ्लावर ऑन फिश (यह गुडलक के लिए रखते हैं), जैड गोरामी, कैट फिश जैसी छोटी-बड़ी मछलियां देखने को मिलेंगी।

About bheldn

Check Also

भूमि पूजन

भोपाल 40 लाख की लागत से शासकीय आवास कोटरा में पीडब्ल्यूडी द्वारा डामरीकरण के विकास …