अर्शदीप सिंह ने आखिरी ओवर में डिफेंड किए 10 रन, भारत को रोमांचक मुकाबले में मिली जीत

बेंगलुरु:

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को टी20 सीरीज के पांचवें और आखिरी मुकाबले में 6 रन से हरा दिया है। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। लगातार गिरते विकेट के बीच श्रेयस अय्यर के अर्धशतक की मदद से भारत ने आठ विकेट पर 160 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया ने तेज शुरुआत की लेकिन बल्लेबाजी के लिए मुश्किल विकेट पर कंगारू बल्लेबाज भी टिककर नहीं खेल पाए। आखिरी ओवर में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 10 रन चाहिए थे लेकिन अर्शदीप सिंह ने सिर्फ 3 रन ही दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने 5 मैचों की सीरीज को 4-1 से अपने नाम कर लिया।

खुलकर नहीं खेल पाए भारतीय बल्लेबाज
ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने कसी गेंदबाजी करके भारतीय बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया। वनडे विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करने वाले अय्यर ने 37 गेंद पर 53 रन बनाए, जिसमें पांच चौके और दो छक्के शामिल हैं। उनके अलावा सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे अक्षर पटेल ने 21 गेंद पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से 31 रन का उपयोगी योगदान दिया।

भारत ने पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किए जाने के बाद पावरप्ले के छह ओवर में 42 रन बनाए और इस बीच चार गेंद के अंदर दोनों सलामी बल्लेबाजों यशस्वी जायसवाल (15 गेंद पर 21) और रुतुराज गायकवाड (12 गेंद पर 10) के विकेट गंवाए। जायसवाल ने आरोन हार्डी और जेसन बेहरनडॉर्फ (38 रन देकर दो विकेट) पर छक्के लगाए लेकिन पिछले कुछ मैचों की तरह एक और लंबा शॉट खेलने के प्रयास में उन्होंने गेंद हवा में लहराकर पवेलियन की राह पकड़ी। गायकवाड भी सही टाइमिंग से बड़ा शॉट नहीं खेल पाए और मिड ऑफ पर कैच दे बैठे।

अय्यर और अक्षर ने संभाला
बेन ड्वारश्विस (30 रन देकर दो विकेट) ने गायकवाड को आउट करने के बाद भारतीय कप्तान सूर्यकुमार यादव (05) को भी पवेलियन भेजा, जो शुरू में मिले जीवनदान का फायदा नहीं उठा पाए। रिंकू सिंह (06) भी अपना जलवा नहीं दिखा पाए और लेग स्पिनर तनवीर संघा (26 रन देकर एक विकेट) की गेंद पर लॉन्ग ऑन पर कैच दे बैठे जिससे भारत का स्कोर चार विकेट पर 55 रन हो गया।

भारत 10 ओवर तक 61 रन ही बना पाया था। इसके बाद ड्वारश्विस के अगले ओवर में 16 रन बने जिसमें अय्यर का छक्का और चौका भी शामिल है। जितेश शर्मा (16 गेंद पर 24) को बेहरनडॉर्फ की गलती से जीवनदान और छक्का मिला लेकिन हार्डी (21 रन देकर एक विकेट) की गेंद पर उनकी टाइमिंग सही नहीं थी और उनका शॉट डीप मिडविकेट पर आसान कैच में बदल गया। इसके बाद अक्षर और अय्यर ने छठे विकेट के लिए 46 रन की साझेदारी की। अय्यर ने नाथन एलिस (42 रन देकर एक विकेट) के पारी के आखिरी ओवर में छक्का जड़कर 36 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया।

तेज शुरुआत के बाद ऑस्ट्रेलिया बिखरी
ऑस्ट्रेलिया को सलामी बल्लेबाज ड्रेविस हेड ने तेज शुरुआत दिलाई। लेकिन जोश फिलिप सिर्फ 4 रन बनाकर मुकेश कुमार की गेंद पर बोल्ड हो गए। हेड ने रवि बिश्नोई की गेंद पर बोल्ड होने से पहले 18 गेंद पर 28 रन बनाए। आरोन हार्डी भी 10 गेंद पर 6 रन ही बना ससके। लेकिन इसके बाद बेन मैकडरमोट एक छोर पर टिक गए और तेजी से रन बनाने लगे। हालांकि कोई भी उनसके साथ खुलकर नहीं खेल पाए और भारतीय टीम ने दबाव बनाए रखा।

13वें ओवर में ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 100 के पार हुआ लेकिन 14वें ओवर में टिम डेविड 17 गेंद पर 17 रन बनाकर आउट हो गए। मैकडरमोट ने फिफ्टी लगाई। लेकिन 36 गेंद पर 54 रन बनाकर अर्शदीप का शिकार बने। उन्होंने 5 छक्के मारे। 17वें ओवर में दो विकेट लेकर मुकेश कुमार ने मैच को भारत की तरफ मोड़ दिया। ऑस्ट्रेलिया को 18 गेंद पर 32 रन बनाने थे। कप्तान मैथ्यू वेड ने 18वें ओवर में आवेशन खान को लगातार 3 चौके मार दिए। लेकिन 19वें ओवर में मुकेश कुमार ने सिर्फ 7 रन दिए। आखिरी ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 10 रन चाहिए थे। अर्शदीप सिंह ने दो डॉट गेंद फेंकने के बाद तीसरी गेंद पर वेड को आउट कर भारत की जीत पक्की कर दी। ऑसस्ट्रेलिया की टीम 8 विकेट पर 154 रन ही बना सकी। मुकेश कुमार को तीन जबकि रवि बिश्नोई और अर्शदीप को 2-2 विकेट मिले। अक्षर ने 4 ओवर में सिर्फ 14 ही रन दिए।

About bheldn

Check Also

‘पेपर लीक के पुख्ता सबूत…’, यूपी सिपाही भर्ती एग्जाम रद्द होने के बाद आया व्हिसल ब्लोअर का बयान

लखनऊ, योगी सरकार ने यूपी पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द कर दी है. इस मामले …