‘दिल्ली के लोग सातों सीट AAP को देंगे’, बोले CM केजरीवाल, क्या कांग्रेस संग नहीं होगा गठबंधन?

तरन तारन,

आगामी लोकसभा चुनाव में दिल्ली की 7 सीटों पर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस मिलकर लड़ेंगी या नहीं, इस पर अभी भी सस्पेंस जारी है. क्योंकि इसे लेकर अभी तक कोई भी आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है. इसी बीच आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के तरनतारन में रैली के दौरान बड़ा बयान दिया है. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने इस बार ठान लिया है कि दिल्ली की सातों लोकसभा सीटें इस बार आम आदमी पार्टी को देंगे.

रैली को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि BJP को डर है कि केंद्र में AAP की सरकार बन जाएगी. उन्होंने कहा कि आज भाजपा सिर्फ आम आदमी पार्टी से डरती है. पूरे देश में आम आदमी पार्टी तेजी से बढ़ी है. आम आदमी पार्टी 10 साल का छोटा सा बच्चा है. इस छोटे से बच्चे ने इतनी बड़ी पार्टी की नाक में दम कर दिया है. AAP उनको सोने नहीं देती. उन्हें नींद नहीं आती है. हम लोग उनके सपने में रात को भूत की तरह आते हैं. उन्होंने कहा कि इधर पंजाब में हमें काम करने से रोका जा रहा है तो उधर दिल्ली में ये लोग हमें रोक रहे हैं. मैं जो काम करना चाहता हूं, उसे करने नहीं दिया जा रहा.

केजरीवाल ने कहा कि एक छोटी सी पार्टी की 10 साल के अंदर पंजाब और दिल्ली में सरकार बन गई. गुजरात और गोवा में विधायक बन गए. जहां चुनाव लड़ते हैं, वहां खूब सारे वोट आते हैं. आज बीजेपी को डर है कि ये (AAP) इसी तरह आगे बढ़ते रहे तो एक दिन केंद्र में आम आदमी पार्टी की सरकार बन जाएगी.

पंजाब में केजरीवाल ने कहा कि भाजपा 30 साल से गुजरात में, 15 साल से मध्य प्रदेश में सरकार चल रही है, लेकिन एक स्कूल ठीक नहीं कर पाए और ना ही बिजली व्यवस्था बेहतर कर पाए. उन्होंने कहा कि अगर तुम्हारे में हिम्मत है तो काम करके दिखाओ. जो काम आम आदमी पार्टी करती है, वो काम इनसे नहीं होते हैं. यह सिर्फ आम आदमी पार्टी को कुचलना, खत्म करना, क्रश करना, गिरफ्तार करना और बदनाम करना चाहते हैं. लेकिन जनता हमारे साथ है तो डर किस बात का है.

About bheldn

Check Also

5 राज्यों में ताबड़तोड़ गठबंधन के लिए कांग्रेस और दूसरे दल इन 4 कारणों से हुए मजबूर

नई दिल्ली, कांग्रेस के लिए यह हफ्ता खुशियां लेकर आया. उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी …