पुलिस को चकमा देने छोटे बच्चों को साथ रखती थीं गिरोह की महिलाएं, अपहरण केस में बड़ा खुलासा

सीहोर ,

मध्य प्रदेश के सीहोर में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए मानव तस्कर गिरोह के 9 सदस्यों को पकड़ा है. आरोपी सीहोर के साथ आसपास के जिले देवास, राजगढ़, शिवपुरी, शाजापुर वारदात को अंजाम दे चुके हैं. पूछताछ में और भी कई बड़े खुलासे होने की संभावना है. आरोपियों ने जिले के डूंडा लावा गांव से एक 7 साल की बच्ची का अपहरण किया था. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 24 घंटे में बच्ची को सकुशल दस्तियाब कर गिरोह का पर्दाफाश कर दिया. गिरोह में शामिल महिलाएं पुलिस को चकमा देने के लिए अपने साथ बच्चों को भी रखती थीं.

अंतर्राज्यीय मानव तस्कर गिरोह के आरोपी देवास, राजगढ़, शिवपुरी, शाजापुर के रहने वाले हैं. उनके खिलाफ आपराधिक रिकॉर्ड भी दर्ज है. आसपास के जिलों में भी वारदात को अंजाम दे चुके हैं. सीहोर जिले में अपहरण की वारदात को अंजाम देने के साथ ही गिरोह को पकड़ लिया गया है. पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है. जिसमें और भी खुलासे होने की संभावना है. गिरोह के मुख्य आरोपी पर पहले भी इस तरह के मामले दर्ज हैं.

जिले के इछावर में 7 साल की मासूम बच्ची के अपहरण के बाद एसपी मयंक अवस्थी ने पुलिस टीम को लगाया. पुलिस ने 24 घंटे के अंदर मासूम बच्ची को दस्तियाब करने के साथ ही गिरोह को पकड़ा है. 9 सदस्यीय गिरोह में 9 सदस्य हैं जबकि 2 महिलाएं भी शामिल हैं. शातिर महिलाएं पुलिस को गुमराह करने के लिए अपने साथ छोटे बच्चों को रखती थीं.

पुलिस अधीक्षक (SP) मयंक अवस्थी ने मीडिया को बताया कि एक बच्ची के ले जाने की सूचना पुलिस को मिली थी. टीम को सक्रिय किया गया तो पता चला कि शिवपुरी की तरफ गए हैं. पुलिस ने दबिश देकर बच्ची को सकुशल बरामद कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है. घटना को अंजाम देने वाले 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ की जा रही है और भी बड़े खुलासे हो सकते हैं. आरोपियों पर अपराधिक रिकॉर्ड भी दर्ज है.

About bheldn

Check Also

अरे @##_$$ तुमसे नीरव मोदी, विजय माल्या लाया नहीं गया और तुम राम को लाए… ये क्या बोल गए दिग्विजय सिंह

गुना एमपी के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल …