वाराणसी में स्टारबक्स ने खोला अपना आउटलेट, कॉफी के एक कप के लिए लोगों ने किया ऐसा

नई दिल्ली ,

भारत जैसे देश में हमेशा ही ब्रांड्स लोगों के बीच लक्जरी से ज्यादा शो-ऑफ का माध्यम रहे हैं. किसी छोटे शहर में बड़े ब्रांड के आने भर की खबर, लोगों के बीच जो एक्साइटमेंट पैदा करती है, देखने वाला होता है. लेकिन छोटे शहरों में आने वाले बड़े ब्रांड्स के सामने चुनौतियां भी काफी रहती हैं. सवाल रहता है कि क्या ये छोटे शहरों में अपने पैर पसार पाएंगे? जवाब दिया है दुनिया की मशहूर कॉफी चेंस में शुमार स्टारबक्स ने.

स्टारबक्स ने यूपी के वाराणसी में अपना पहला स्टोर खोला, तो डिबेट तेज हो गई कि, क्या इस छोटे शहर की जनता स्टारबक्स की महंगी कॉफी को खरीद पाएगी? शहर के पहले आउटलेट पर जैसी लोगों की भीड़ है उसने सारी बहस को विराम दे दिया है.इंटरनेट पर कई वीडियो और तस्वीरें साझा हुई हैं जिनमें कॉफ़ी शॉप के अंदर भारी भीड़ है. वहीं आउटलेट के बाहर भी लंबी कतार लगी है जिनमें खड़े लोग अपनी बारी का इंतजार करते हुए नजर आ रहे हैं.

@aaraynsh नाम के यूजर ने माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट X पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि पहले लोग ये कह रहे थे कि स्टारबक्स छोटे शहर में कभी कामयाब नहीं होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि लोग शायद ही कभी 300 रुपए की कॉफी खरीदें. और अब जबकि आउटलेट खुल गया है नजारा कुछ अलग है.

वीडियो देखें तो मिलता है कि स्टोर की हर एक सीट पर लोगों ने कब्ज़ा किया हुआ है. जबकि तमाम लोग स्टोर के बाहर खड़े हैं जो इस ग्लोबल ब्रांड की कॉफी पीने के लिए प्रतीक्षा कर रहे हैं. जिस हिसाब से आउटलेट की पार्किंग बाइक्स से फुल है साफ़ पता चलता है कि स्टारबक्स अपनी मुहीम में कामयाब हुआ है.

जिस चीज के लिए आउटलेट तारीफें बटोर रहा है वो है इसका इंटीरियर और डिज़ाइन. जिस तरह स्टारबक्स ने एक पुरानी संरचना को शाही थीम दी वो लोगों को खूब पसंद आ रही हैं और प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है. बताते चलें कि अपने भव्य उद्घाटन को चिह्नित करने और संभावित ग्राहकों को और अधिक लुभाने के लिए कंपनी द्वारा 22 मार्च से 26 मार्च तक बाय वन गेट वन’ ऑफर रखा गया था. बताया ये भी जा रहा है कि लोगों की ये भीड़ उसी सिलसिले से है.

About bheldn

Check Also

दुनिया के सबसे अच्‍छे हवाई अड्डो में भारत की स्थिति शर्मनाक, टॉप 100 में सिर्फ 5, शीर्ष 20 में एक भी नहीं

नई दिल्‍ली: दुनिया के सबसे अच्‍छे हवाई अड्डों में भारत की स्थिति बहुत खराब है। …