उद्धव ठाकरे की शिवसेना से चुनाव लड़ सकते हैं जलगांव से BJP सांसद उन्मेश पाटिल, कल छोड़ सकते हैं पार्टी

मुंबई,

महाराष्ट्र में लोकसभा चुनावों के बीजपी को बड़ा झटका लग सकता है। जलगांव से बीजेपी के सांसद उन्मेश पाटिल उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली शिवसेना में शामिल हो सकते हैं। उन्मेश पाटिल के पार्टी छोड़ने की अटकलों से राज्य की राजनीति गर्मा गई है। बीजेपी ने उन्मेश पाटिल का इस बार टिकट काट दिया था। उनके स्थान पर पार्टी ने स्मिता वाघ को टिकट दिया है। महाविकास आघाड़ी की तरफ से अभी जलगांव सीट पर कैंडिडेट का ऐलान नहीं हुआ है। ऐसे में चर्चा है कि उन्मेश पाटिल तीन अप्रैल को शिवसेना (यूबीटी) की सदस्यता ग्रहण करेंगे। अगर ऐसा होता है तो बीजेपी को जलगांव में धक्का लग सकता है।

पहले रह चुके हैं विधायक
उन्मेश पाटिल जलगांव में काफी लोकप्रिय हैं। 2014 में वह चालीसगांव विधानसभा क्षेत्र से विधान सभा सदस्य (एमएलए) के रूप में चुने गए थे। इसके बाद 2015 से 2019 तक महाराष्ट्र राज्य सहकारी चीनी फैक्ट्रीज़ फेडरेशन लिमिटेड के अध्यक्ष के रूप में काम कर चुके हैं। महाविकास आघाड़ी में जलगांव की सीट शिवसेना यूबीटी के खाते में आई है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि उद्धव ठाकरे इस सीट पर उन्मेश पाटिल को टिकट दे सकते हैं। अगर उन्मेश पाटिल बीजेपी छोड़ते हैं तो यह एक बड़ा झटका होगा। 5 अगस्त 1972 को महाराष्ट्र के जलगांव में ही जन्मे उन्मेश पाटिल ने बी.ई. में स्नातक की डिग्री पूरी की है। इसके बाद नॉर्थ महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी मुंबई से ई-कॉमर्स मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री हासिल की है।

बड़े मार्जिन से जीते थे पाटिल
उन्मेश पाटिल के बीजेपी छोड़ने की अटकलों पर स्मिता वाघ की रिएक्शन भी सामने आई है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि वे ऐसा फैसला नहीं लेंगे। जलगांव की सीट पर बीजेपी का लंबे समय से कब्जा है। बीजेपी ने 1999 के बाद से लगातार जीत हासिल की है। बीजेपी लगातार छह बार जीत चुकी है। उन्मेश पाटिल 2019 में बीजेपी के कैंडिडेट के तौर पर 4,11,617 वोटों के मार्जिन से जीते थे। तब उन्होंने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार को शिकस्त दी थी।

एनडीए ने 33 उम्मीदवारों का ऐलान किया
महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों पर पांच चरणों में वोट डाले जाएंगे. इस बार एनडीए में बीजेपी, शिवसेना (शिंदे गुट) और एनसीपी (अजित पवार) शामिल हैं. हालांकि, अभी तक सीटों को लेकर बंटवारा नहीं हो पाया है. एनडीए ने अब तक 48 में से 33 सीटों पर ही उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है.

7 चरणों में होने वाले हैं लोकसभा चुनाव
पिछली बार की तरह ही इस बार भी लोकसभा चुनाव सात चरणों में होंगे. पहले चरण में 19 अप्रैल को वोटिंग होगी. इसके बाद 26 अप्रैल, 7 मई, 13 मई, 20 मई, 25 मई और 1 जून को वोट डाले जाएंगे. 4 जून को नतीजे घोषित किए जाएंगे.

About bheldn

Check Also

हमेशा जल्दबाजी में रहने वाले एलन मस्क भारत आने में क्यों कर रहे देरी! कहीं चीन तो नहीं है वजह

नई दिल्ली दुनिया के टॉप रईसों में शामिल एलन मस्क ने अपना भारत का दौरा …