बीएचईएल के ठेका मजदूरों ने प्रेरणा भवन में किया प्रदर्शन

भोपाल

भेल कारखाने में मंगलवार को ठेका श्रमिकों ने प्रेरणा भवन के सामने जोरदार प्रदर्शन किया। उनकी मांग थी कि भेल प्रबंधन कलेक्टर रेट पर बढ़ा हुआ वेतन नहीं दे रहा है। यह रेट 01 अप्रैल 2024 से 20 फीसदी वेतन बढ़ाया गया हैै। इससे मजदूरों में असंतोष व्याप्त है। बढ़ा हुआ वेतन प्रबंधन की लापरवाही और ठेकेदारों की मनमानी नहीं मिल पा रहा है। यहां तक कि ठेकेदारों को सुपरवाइजर खुद मजदूरों का शोषण कर रहे हैं। इसकी शिकायत भी भेल के आईआर और एचआर विभाग को की गई है। इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। प्रदर्शन में सैकड़ों ठेका श्रमिक शामिल थे।

गौरतलब है कि मंगलवार को ही बीएचईएल की डायरेक्टर वाणी वर्मा कारखाने में उत्पादन की समीक्षा करने आईं, लेकिन इस प्रदर्शन के चलते उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि बाद में एचआर विभाग ने मोर्चा संभाला और सीआईएसएफ की मदद से मजदूरों के प्रदर्शन को रोका। यूनियन के अध्यक्ष प्रशांत पाठक ने बताया कि ठेकेदारों की मनमानी के खिलाफ आईआर विभाग को कई बार शिकायत की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती। यहां तक कि हर माह की 7 तारीख को मिलने वाला पुराना वेतन भी आज तक नहीं मिल पाया। ठेकेदार जितना चाहें जब वेतन भेज देते हैं। सुपरवाइजर मजदूरों के साथ मनमानी करते हैं। ऐसे में बड़ा हुआ वेतन तो दूर की बात है। लगता है कि भेल का आईआर विभाग सरकार से बड़ा हो गया है।

About bheldn

Check Also

बीएचईएल ने कमाया 260 करोड़ का प्रॉफिट

भोपाल पब्लिक सेक्टर की कंपनी भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) ने मंगलवार को मार्च तिमाही …