बिहार: लोकसभा चुनाव के बीच प्रशांत किशोर ने 2025 के लिए चल दिया ’60 प्लस’ वाला दांव

मुजफ्फरपुर

बिहार में अभी लोकसभा चुनाव चल रहा है। आज सोमवार को पांचवें चरण का मतदान संपन्न हुआ है। लोकसभा चुनाव के ठीक एक साल बाद यानी 2025 में बिहार में विधानसभा का चुनाव होना है। ऐसे में विधानसभा चुनाव के लिए जन सुराज अभियान के सूत्रधार प्रशांत किशोर ने अपना टार्गेट सेट करना शुरू कर दिया है। आज प्रशांत किशोर ने जनता के बीच ’60 प्लस’ वाला दांव चला। बिहार में पदयात्रा कर रहे प्रशांत किशोर ने कहा कि इस बार हम संकल्प लेकर आए हैं। हमने किसी नेता और दल का नहीं, आपका हाथ पकड़ा है, आपके बच्चों का हाथ पकड़ा है। दो साल में जैसे आप दही को मथकर मक्खन निकालते हैं, वैसे ही समाज को मथकर, बिहार को मथकर ऐसे लोगों को निकालेंगे, जिसको आपके आशीर्वाद और वोट से जिताकर लाएं और जनता का राज बनाएं। दो साल में जनता का राज बनेगा।

युवाओं को बिहार में ही 10-15 हजार का रोजगार करके देंगे: पीके
प्रशांत किशोर ने कहा कि हमारा पहला संकल्प है, नाली-गली बने चाहे ना बने, स्कूल अस्पताल जब सुधरेगा तब सुधरेगा, लेकिन साल भर के अंदर आपके घर से जितने लोग बाहर कमाने गए हैं या आपके गांव में जितने युवा बेरोजगार बैठे हैं, उनको नौकरी मिले चाहे ना मिले, कम से कम 10 से 15 हजार रुपये का रोजी-रोजगार बिहार में करके दिया जाएगा।

प्रशांत किशोर का ’60 प्लस’ वाला दांव क्या?
प्रशांत किशोर ने ’60 प्लस’ वाला दांव चलते हुए कहा कि लोगों ने बताया कि बिहार में सबसे ज्यादा परेशान बुजुर्ग लोग हैं, जो मजदूरी भी नहीं कर सकते हैं। 60 साल से अधिक उम्र की महिला और पुरुषों के लिए हर महीने 2 हजार रुपये पेंशन की व्यवस्था की जाएगी। लोगों से सवाल पूछते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि अगली बार वोट रोजगार के लिए होना चाहिए कि 5 किलो अनाज के लिए? इसपर लोगों ने रोजगार कहा।

पीके ने जनता से पूछे सवाल
प्रशांत किशोर ने अगला सवाल किया कि आपको अपने बच्चों के लिए पढ़ाई चाहिए या अपनी जाति का नेता चाहिए? इसपर लोगों ने कहा हमें अपने बच्चों के लिए पढ़ाई चाहिए।

About bheldn

Check Also

‘मैं धर्मनिरपेक्ष हूं, यादव-मुसलमानों के लिए भी काम करूंगा’, बयान पर हंगामे के बाद JDU सांसद की सफाई

भागलपुर, जेडीयू के नवनिर्वाचित सांसद देवेश चंद्र ठाकुर ने कुछ दिन पहले कहा था कि …