चांद से धरती की मशहूर तस्वीर खींचने वाले विलियम एंडर्स की प्लेन क्रैश में मौत, 90 साल की उम्र में अकेले उड़ा रहे थे विमान

सिएटल

सेवानिवृत्त मेजर जनरल एवं ‘अपोलो 8’ के पूर्व अंतरिक्ष यात्री विलियम एंडर्स की शुक्रवार को एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई। वह 90वर्ष के थे। एंडर्स विमान को अकेले उड़ा रहे थे और विमान वाशिंगटन के सैन जुआन द्वीप के पास पानी में गिर गया। उनके बेटे और वायुसेना में लेफ्टिनेंट कर्नल रहे ग्रेग एंडर्स ने ‘एसोसिएटेड प्रेस’ से उनके निधन की पुष्टि की। विलियम एंडर्स ने 1968 में प्रतिष्ठित “अर्थराइज” तस्वीर खींची थी।

‘अर्थराइज’ पृथ्वी और चंद्रमा की सतह के एक हिस्से की तस्वीर है जो एंडर्स ने चंद्रमा की कक्षा से ली थी। उनके बेटे ग्रेग एंडर्स ने कहा, “परिवार बहुत दुखी है। वह कुशल विमान चालक थे और हमें उनकी बहुत याद आएगी।” विलियम एंडर्स ने कहा था कि यह फोटो (अर्थराइज) अंतरिक्ष कार्यक्रम में उनका सबसे महत्वपूर्ण योगदान है।

चांद से पृथ्वी की पहली रंगीन तस्वीर
एंडर्स द्वारा अंतरिक्ष से ली गई पृथ्वी की पहली रंगीन तस्वीर आधुनिक इतिहास की सबसे महत्वपूर्ण तस्वीरों में से एक है, क्योंकि इसने इस गृह (पृथ्वी) के प्रति मनुष्य के नजरिए को बदल दिया। इस तस्वीर को वैश्विक पर्यावरण आंदोलन को बढ़ावा देने का श्रेय दिया जाता है। तस्वीर ने दिखाया कि अंतरिक्ष से पृथ्वी कितनी नाजुक और अलग-थलग दिखाई देती है।

एंडर्स ने चंद्रमा की चौथी परिक्रमा के दौरान मशहूर तस्वीर को खींचा था, जब वह ब्लैक एंड व्हाइट से कलर पर स्विच कर रही थी। एंडर्स ने कहा, ‘ओह गॉड, वहां उस तस्वीर को देखो। धरती ऊपर आ रही है। वाह, क्या खूबसूरती है!’ अपोलो 8 मिशन दिसम्बर 1968 में पृथ्वी की निचली कक्षा से निकलकर चंद्रमा की यात्रा करने और वापस आने वाला पहला मानव अंतरिक्ष यान था। ये नासा की अब तक की सबसे साहसिक और शायद सबसे खतरनाक यात्रा था। इसने सात महीने बाद अपोलो की चांद पर पहली लैंडिंग के लिए मंच तैयार किया।

About bheldn

Check Also

अमेरिकी लड़के ने पेरेंट्स को मारकर पुलिस पर चलाई गोली, बॉडीकैम वीडियो से चौंकाने वाली गोलीबारी का खुलासा

फ्लोरिडा फ्लोरिडा में एक 19 वर्षीय लड़के ने कथित तौर अपने माता-पिता की गोली मारकर …