सिंधिया-खटीक रिपीट, शिवराज की भी एंट्री, दो नाम चौंकाने वाले, जानिए कौन हैं MP में पीएम मोदी के ‘पांडव’

भोपाल

एनडीए संसदीय दल के नेता नरेंद्र मोदी आज लगातार तीसरी बाद प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। पीएम मोदी के साथ कैबिनेट मंत्री और राज्य मंत्री भी शपथ ग्रहण करेंगे। पीएम मोदी ने संभावित मंत्रियों के साथ अपने आवास पर मुलाकात की। इन मंत्रियों के लिए चाय पार्टी का आयोजन किया गया है। इस चाय पार्टी में मध्य प्रदेश के पांच सांसद पहुंचे थे। अब माना जा रहा है कि इन पांचों नेताओं को मोदी कैबिनेट में जगह मिल सकती है। वहीं, ज्योतिरादित्य सिंधिया और शिवराज सिंह चौहान का कद बढ़ सकता है।

किसे कौन सा विभाग मिलेगा इसका खुलासा नहीं हुआ है। मध्य प्रदेश से शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, वीरेन्द्र खटीक, दुर्गादास उइके के अलावा सावित्री ठाकुर भी पीएम आवास में आयोजित बैठक में थीं। अब माना जा रहा है कि शिवराज, सिंधिया और वीरेन्द्र खटीक को कैबिनेट मंत्रालय मिल सकता है जबकि सावित्री ठाकुर और दुर्गादास उइके को राज्य मंत्री बनाया जा सकता है।

बीजेपी ने किया है क्लीन स्वीप
देशभर में बीजेपी का प्रदर्शन भले ही उसके अनुकूल नहीं रहा हो लेकिन मध्य प्रदेश में बीजेपी ने कमाल किया है। पार्टी ने यहां क्लीन स्वीप किया है। राज्य की सभी 29 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली है। वहीं, सबसे बड़ी बात ये है कि बीजेपी ने इस बार कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा में भी जीत हासिल की है। छिंदवाड़ा में बीजेपी को 27 साल बाद जीत मिली है।

सभी लोकसभा चुनाव जीते नेताओं को मिलेगा मंत्रालय
मध्य प्रदेश के जिन पांच नेताओं को मंत्री बनाया जाना है। वह सभी लोकसभा का चुनाव जीतकर आए हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया, गुना से चुनाव जीते हैं तो शिवराज सिंह चौहान, विदिशा लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं। वीरेन्द्र खटीक एक बार फिर से टीकमगढ़ लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं। वहीं, दुर्गादास उइके, बैतूल लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं। जबकि सावित्री ठाकुर ने धार लोकसभा सीट से जीत हासिल की है।

शिवराज को मिल सकता है बड़ा मंत्रालयमध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को मोदी कैबिनेट में बड़ा पोर्टफोलियो मिल सकता है। अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्हें ग्रामीण विकास या फिर कृषि विभाग का मंत्री बनाया जा सकता है। ज्योतिरादित्य सिंधिया को कौन सा विभाग मिलेगा फिलहाल इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आई है। माना जा रहा है कि उनके पिछले रिपोर्ट कार्ड को देखते हुए उन्हें भी बड़ा मंत्रालय मिल सकता है।

About bheldn

Check Also

हम तो तुलसीदास जैसे गंवार… राधारानी के बाद पंडित प्रदीप मिश्रा का नया विवाद, संतों ने कहा- शंकर का नाम लेकर जहर उगल रहे

भोपाल: कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा अब नए विवाद में घिर गए हैं। राधारानी का विवाद …