उधर केंद्र में मोदी की वापसी, इधर ममता बनर्जी ने राज्‍य कर्मचारियों को DA पर दिया तोहफा, क्‍या है मैसेज?

नई दिल्‍ली:

पश्चिम बंगाल सरकार ने अपने कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (DA) बढ़ाने का ऐलान किया है। इममें चार फीसदी तक की बढ़ोतरी की गई है। यही नहीं, महंगाई भत्ते (डीए) में चार फीसदी तक की बढ़ोतरी मई के बजाय अप्रैल से लागू होगी। यह घोषणा ऐसे समय हुई जब बीते रोज ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रिपरिषद ने शपथ ग्रहण की है। इस बीच भारतीय बैंक संघ (आईबीए) ने भी बताया है कि बैंक कर्मचारियों का महंगाई भत्ता मई, जून और जुलाई 2024 के लिए 15.97 फीसदी होगा। महंगाई भत्ता (डीए) वेतन का एक अतिरिक्त हिस्सा होता है। यह कर्मचारियों को जीवन यापन की बढ़ती लागत का सामना करने में मदद करता है। डीए महंगाई के असर को कम करने में मदद करता है। इससे कर्मचारियों की क्रय शक्ति को बनाए रखने में मदद मिलती है।

ममता बनर्जी का आक्रामक है रुख
लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के शानदार प्रदर्शन के बाद ममता बनर्जी के तेवर आक्रामक हैं। वह कह चुकी हैं कि विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A सरकार बनाएगा। ममता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हुई थीं। वह बोली थीं कि नई सरकार अलोकतांत्रिक तरीके से बनी है।ममता की टीएमसी ने राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 29 पर जीत हासिल की है। पिछली बार के चुनाव में यह आंकड़ा 22 था। बीजेपी की 2019 में 18 सीटें थीं। ये घटकर इस बार 12 रह गई हैं।

प्रदर्शनकारी क‍िसानों से की थी मुलाकात
तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने सोमवार को पंजाब में प्रदर्शनकारी किसानों को आश्वासन दिया था कि उनकी पार्टी न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के लिए कानूनी गारंटी दिए जाने का मुद्दा संसद के आगामी सत्र में उठाएगी। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने पंजाब के खनौरी सीमा पर किसानों से मुलाकात की थी। इसके बाद यह आश्वासन दिया गया। बनर्जी ने प्रदर्शनकारियों से कहा कि टीएमसी हमेशा किसानों के न्याय के लिए खड़ी रहेगी।

About bheldn

Check Also

152 दिन, 143 सुइसाइड, यवतमाल को पीछे छोड़ महाराष्ट्र में किसान आत्महत्या की राजधानी बना अमरावती

नागपुर किसानों की आत्महत्या मामले में महाराष्ट्र टॉप पर रहता है। पिछले कुछ वर्षों में …